Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    जमानत पर फैसला नहीं होने तक विदेश यात्रा नहीं कर सकेंगे सुधांशु महाराज

    Published: Wed, 15 Nov 2017 06:25 PM (IST) | Updated: Thu, 16 Nov 2017 07:30 AM (IST)
    By: Editorial Team
    sudhanshu maharaj 15 11 2017

    इंदौर। 53 लाख रुपए की धोखाधड़ी के मामले में जब तक जमानत पर फैसला नहीं हो जाता, सुधांशु महाराज विदेश यात्राएं नहीं करेंगे। महाराज के खिलाफ हाई कोर्ट में दायर याचिका में बुधवार को यह आश्वासन उनकी तरफ से दिया गया। कोर्ट अब जमानत को लेकर 24 नवंबर को सुनवाई करेगी।

    शाजापुर के मानसिंघा चैरिटीज ट्रस्ट की शिकायत पर सुधांशु महाराज के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ है। इसकी सुनवाई शाजापुर जिला कोर्ट में चल रही है। महाराज पर आरोप है कि उन्होंने मानसिंघा को धोखा देते हुए 53 लाख रुपए अपने संस्थान जनजागृति मिशन के खाते में जमा करवा लिए।

    महाराज ने आश्वासन दिया था कि इस रकम पर मानसिंघा को आयकर की छूट मिलेगी। संस्थान के पास इस संबंध में धारा 88 के तहत आयकर विभाग से जारी सर्टिफिकेट भी है। आश्वासन पर भरोसा कर मानसिंघा ने उक्त संस्थान में रकम जमा कर दी।

    जब आयकर विभाग से उक्त रकम पर छूट नहीं मिली तो मानसिंघा ने मामले जानकारी निकलवाई। खुलासा हुआ कि आयकर विभाग ने सुधांशु महाराज के संस्थान को ऐसा कोई सर्टिफिकेट कभी जारी नहीं किया। पुलिस ने इस मामले में महाराज और संस्थान के सेक्रेटरी देवराज कटारिया पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।

    महाराज की तरफ से हाई कोर्ट में जमानत के लिए आवेदन किया गया। कोर्ट ने महाराज को इस शर्त पर जमानत दी थी कि वे कोर्ट की जानकारी के बगैर विदेश की यात्रा नहीं करेंगे। इसके बावजूद महाराज कोर्ट को जानकारी दिए बगैर विदेश यात्राएं करते रहे। मानसिंघा चैरिटीज ट्रस्ट ने एडवोकेट विजय आसुदानी के माध्यम से हाई कोर्ट में एक याचिका दायर कर उनकी जमानत निरस्त करने और पासपोर्ट जब्त करने की गुहार लगाई।

    पिछली सुनवाई पर कोर्ट ने आरोपियों को नोटिस जारी कर जवाब देने को कहा था। बुधवार को जस्टिस आलोक वर्मा की बेंच में याचिका पर सुनवाई हुई। एडवोकेट आसुदानी ने बताया कि सुधांशु महाराज की तरफ से कोर्ट को बताया गया कि जब तक याचिका का अंतिम निराकरण नहीं हो जाता सुधांशु महाराज और देवराज कटारिया देश से बाहर नहीं जाएंगे। कोर्ट अब इस मामले में 24 नवंबर को सुनवाई करेगी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें