Naidunia
    Friday, December 15, 2017
    PreviousNext

    दस्तक अभियान में 1741 गांव में जाएंगी टीमें

    Published: Thu, 07 Dec 2017 08:35 PM (IST) | Updated: Fri, 08 Dec 2017 03:59 PM (IST)
    By: Editorial Team
    ghar ghar dastak 2017128 155932 07 12 2017

    सतना। आगामी दिनों में शुरू हो रहे दस्तक अभियान की तैयारियों को लेकर गुरुवार को कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत 18 दिसम्बर से 18 जनवरी द्वितीय चरण के दस्तक अभियान की जानकारी दी गई। जिला अस्पताल के आईपीपी-6 में आयोजित कार्यक्रम में सीएमएचओ डॉ. डीएन गौतम, सिविल सर्जन डॉ. एसबी सिंह, डीएचओ डॉ. विजय आरख, महिला बाल विकास अधिकारी डीपीएम मौजूद रहे।

    सीएमएचओ तथा सीएस ने एएनएम, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा सहयोगियों को दस्तक अभियान के दौरान 0 से 5 वर्ष के कुपोषित निमोनिया एवं दस्त के शिकार बच्चों की पहचान करने के लिए आवश्यक जानकारियां उपलब्ध कराईं।

    खून की कमी, कुपोषण निमोनिया एवं दस्त के 5 वर्ष तक के बच्चों की पहचान की जाएगी। कुपोषित अति कुपोषित बधाों को पोषण पुनर्वास केन्द्र में लाकर भर्ती कराया जाएगा। निमोनिया एवं रक्त अल्पता के शिकार एवं दस्त पीड़ित बच्चों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा। साथ ही दस्त से पीड़ित बच्चों के घोल एवं आवश्यक दवाएं टीम द्वारा मौके पर मुहैया कराया जायेगा।

    दौरान जिले के 1741 गांव में एएनएम, आशा, आंगनबाड़ी, आशा सहयोगी कार्यकर्ताओं की टीमें भ्रमण कर लगभग तीन लाख बच्चों की पहचान करेंगी और उनको उपचार उपलब्ध कराने निर्दिष्ट स्थानों पर पहुंचाएंगी। दस्तक अभियान के दौरान टीमों द्वारा घर-घर जाकर टीकाकरण से वंचित बच्चों की सूची भी तैयार की जाएगी। जिनको बाद में नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों में टीका लगाया जाएगा। इसमें प्राथमिक सर्वे के दौरान चिन्हित बच्चें की संख्या व कम्प्यूटर में डाटा फीड किया जाएगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें