Naidunia
    Tuesday, May 23, 2017
    PreviousNext

    दो भाइयों ने पत्नियों के साथ मिलकर छोटे भाई को मार डाला

    Published: Sat, 20 May 2017 03:58 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 02:40 PM (IST)
    By: Editorial Team
    brother murder 2017520 143937 20 05 2017

    खंडवा। प्रधानमंत्री आवास योजना में मिले डेढ़ लाख रुपए में हिस्सा देने से मना करने पर दो भाइयों ने अपनी पत्नियों के साथ मिलकर छोटे भाई की हत्या कर दी। बाद में पुलिस को गुमराह करने के लिए आरोपियों ने ही फरियादी बनकर पुलिस को सूचना दी। रिश्तों को तार-तार करने वाला यह मामला जावर थाना क्षेत्र के ग्राम चिचली का है। दोनों बड़े भाई व उनकी पत्नियों को जेल भेज दिया गया है।

    अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महेंद्र तारणेकर ने बताया कि लालसिंग पिता झबरसिंग (35) की पत्नी उसे छोड़कर चली गई थी। इसके बाद से वह मां वेस्ताबाई के साथ रह रहा था। कुछ दिन पहले वेस्ताबाई को प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत मकान बनाने के लिए डेढ़ लाख रुपए मिले थे।

    डेढ़ लाख रुपए में हिस्से को लेकर लालसिंग का बड़े भाई भावसिंग और मालसिंग से विवाद हुआ था। बड़े भाई और उनकी पत्नी सारद बाई व जमुनाबाई भी रुपए में हिस्सा चाह रहे थे। लालसिंग इन रुपयों से अपनी मां के नाम मकान बनाना चाहता था।

    गत 21 अप्रैल की रात करीब 8 बजे भाई और भाभियों ने लालसिंह की पीठ पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया। साथ ही चारों ने मिलकर उसे पत्थर भी मारे। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

    हत्या कर आरोपियों ने शव घर से करीब 400 फीट दूर नाले के पास बने धोबी घाट पर पटक दिया। अगले दिन सुबह लालसिंग का शव धोबी घाट से उठाकर घर ले आए और पुलिस को सूचना कर दी। आरोपियों ने उसे घायल हालत में पड़ा हुआ मिलना बताया। उन्होंने अज्ञात आरोपियों पर हत्या करने का आरोप लगाया।

    तीन दिन में सुलझा लिया मामला

    पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में युवक की हत्या करने की बात सामने आई थी। जांच उपरांत 16 मई को अज्ञात आरोपियों पर प्रकरण दर्ज किया था। तीन दिन में ही पुलिस ने मामला सुलझा लिया और चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

    मामले को सुलझाने में जावर थाना प्रभारी एएसआई अरुण पाटिल, पिपलौद थाना प्रभारी एएसआई शिवराम पाटीदार, किसनसिंह राजपूत, प्रधान आरक्षक नंदराम वासुरे, विनोद, महिला आरक्षक संध्या और आरक्षक राहुल की सराहनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने पुलिसकर्मियों को पांच हजार रुपए का इनाम देने की घोषणा की है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी