Naidunia
    Friday, June 23, 2017
    PreviousNext

    रोमांचक मैच में ग्वालियर ने बामौर को नौ रनों से हराया

    Published: Fri, 17 Feb 2017 07:56 AM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 07:56 AM (IST)
    By: Editorial Team

    - दूसरे मैच में होम ग्राउंड पर विजेता बनी एसएटीआई की टीम

    फोटो 5

    विदिशा। एसएटीआई मैदान पर शॉट खेलता बल्लेबाज।

    विदिशा। एसएटीआई में चल रही सिंधिया स्मृति इंटर इंजीनियरिंग कालेज प्रतिशेगिता में गुरुवार को पहला मुकाबला आईआईटीएम ग्वालियर और एसआरआईटीएम बामौर के बीच खेला गया, जिसमें रोमांचक मुकाबले में ग्वालियर की टीम विजेता रही। दूसरा मैच एसएटीआई और एसवीआईटीएस इंदौर के बीच खेला गया, जिसमें एसएटीआई की टीम विजेता रही।

    जानकारी के अनुसार एसआरआईटीएम बामौर ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। आईआईटीएम ग्वालियर के सलामी बल्लेबाज विवेक मीणा ने 57 गेंदों पर 87 रन की ताबड़तौड़ पारी खेली, जिसमें 11 चौके शामिल थे। विवेक की पारी के बादौलत आईआईटीएम, ग्वालियर ने 22 ओवर्स के मैच में 150 रन का मजबूत लक्ष्य दिया। 151 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए एसआरआईटीएम, बामौर के सलामी बल्लेबाजों ने अच्छी शुरुआत करते हुए पहले 10 ओवर्स में 85 रन बनाए। लेकिन मध्यक्रम के बल्लेबाज अच्छी शुरुआत को कायम नहीं रख सके और पूरी टीम 22 ओवर्स में 141 ही बना सकी। एसआरआईटीएम, बामौर के चार बल्लेबाज रन आउट हुए। परिणाम स्वरूप आईआईटीम, ग्वालियर ने यह रोमांचक मैंच 09 रनों से जीत लिया।

    होम ग्राउंड पर जीता मैच

    प्रतियोगिता में दूसरे मैच में दर्शकों का तांता लगा रहा। क्योंकि आज एसएटीआई का पहला मैच एसव्हीआईटीएस इंदौर से था। इस मैच में एसएटीआई टीम का उत्साह बढ़ाने के लिए विद्यार्थियों के साथ प्रोफेसर और कर्मचारी भी मौजूद रहे। एसव्हीआईटीएस इंदौर ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। एसव्हीआईटीएस इंदौर की ओर से रवि पांडें और अक्षय पठारिया ने पारी की तेज शुरूआत करते हुए 3 ओवर्स में 21 रन जोड़े। लेकिन आक्रामक खेलते हुए। इंदौर की पूरी टीम मात्र 20 ओवर्स में 92 रन पर आलआउट हो गई। जवाब में एसएटीआई ने 93 रनों का पीछा करते हुए दिव्यम सिंह के 42 संयमित पारी की बदौलत 04 विकेट से मात्र 18वें ओवर में जीत लिया।

    तीर्थ दर्शन में जगन्नाथ पुरी के लिए 22 फरवरी को जाएंगे श्रद्घालु

    विदिशा। मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन यात्रा के तहत जगन्नाथपुरी के लिए श्रद्घालुओं को 22 फरवरी को दर्शन कराने ले जाया जाएगा। सूत्र बताते हैं कि यह यात्रा पहले 23 नबंवर को जाना तय हुई थी, लेकिन अपरिहार्य कारणों के चलते रद्द कर दी गई थी। इस यात्रा के लिए पहले रजिस्टर्ड हुए श्रद्घालुओं को ही ले जाया जाएगा।

    कानूनगो शाखा में पदस्थ शिवओम शर्मा ने बताया कि जो 276 श्रद्घालु पहले चयनित हो गए थे उन्हें ही यात्रा में शामिल किया जाएगा। इसके लिए संबंधित यात्री तहसील कार्यालय में पहुंचकर अपनी सहमति दर्ज कराए जिससे उनकी संख्या निर्धारित की जा सके। जगन्नाथ पुरी के लिए 22 फरवरी को हबीवगंज भोपाल से ट्रेन मिलेगी। इसके अलावा द्वारिकापुरी के लिए 18 फरवरी को विदिशा रेलवे स्टेशन से ट्रेन मिलेगी। इसमें 212 श्रद्घालु रजिस्टर्ड हुए हैं। वहीं 15 मार्च को रामेश्वर जाने वाली यात्रा के लिए 24 फरवरी तक आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इस यात्रा में 242 श्रद्घालुओं का चयन किया जाएगा। इसके बाद 31 मार्च को फिर से जगन्नाथपुरी के लिए यात्रा कराई जाएगी,जिसमें 228 यात्रियों को दर्शन कराने ले जाया जाएगा।

    और जानें :  # vidisha news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी