Naidunia
    Wednesday, May 24, 2017
    PreviousNext

    पत्नी बोली तुम मुझे चाहते हो या भाभी को, मेरे साथ रहना है तो अलग रहना होगा

    Published: Fri, 19 May 2017 04:11 AM (IST) | Updated: Fri, 19 May 2017 04:50 PM (IST)
    By: Editorial Team
    husband wife clash vidisha 2017519 82058 19 05 2017

    विदिशा। शक, शराब और मारपीट ने गुरुवार को तीन परिवारों को टूटने की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। तीनों मामलों में पति-पत्नी शक, शराब और मारपीट करने की अपनी-अपनी बात पर अड़े रहे। जिसके चलते उन्हें कानूनी सलाह दी गई है। शक से टूटने की कगार पर पहुंचे एक मामले में पत्नी का कहना था कि पति भाभी को चाहता है। यदि उसे मेरे साथ रहना है तो अलग रहना होगा। जबकि पति अपने परिवार को छोड़ने तैयार नही था।

    गुरूवार को परिवार परामर्श केन्द्र में तीन पारिवारिक विवाद के अलग-अलग मामले पहुंचे। पहले मामले में शहर की 22 वर्षीय कमला (परिवर्तित नाम) का विवाह भोपाल निवासी अभिषेक से पिछले साल हुआ था। महिला का आरोप था कि उसके पति के भाभी से संबंध है जिसके चलते वह मुझसे दूरिया बनाकर रखता है। जब से विवाह हुआ है मेरे साथ न के बराबर ही समय बिताया है।

    जबकि पति अभिषेक का कहना था कि पत्नी खुद उससे दूरियां बनाकर रखती है। काउंसलर मदनकिशोर शर्मा, केन्द्र प्रभारी रानी निंदाने और आरक्षक रूचिसिंह ने अलग-अलग समझाइश दी, लेकिन बात नहीं बनी तो उन्हें कानूनी सलाह दी गई है। जबकि दूसरे मामले में पति राकेश ने आवेदन दिया था कि उसकी पत्नी रामवती बगैर किसी बात के परिवार में झगड़ा करती है।

    मां से विवाद करती है। कुछ दिन पहले मां से झगड़ रही थी, इसी दौरान डायल 100 पहुंच गई और उसे लेकर थाने आ गई। इसके बाद पत्नी मायके चली गई। तब से वह ससुराल नहीं आ रही है। केन्द्र ने गुरुवार को दोनों के परिजनों को बुलाया और समझाइश दी, लेकिन दोनों अपनी बात पर अड़े रहे जिससे इन्हें भी कानूनी सलाह दी गई है।

    ससुराल जाने को तैयार नहीं पत्नी

    इधर एक अन्य मामले में पत्नी सपना ने अपने ससुराल पक्ष पर शराब पिलाने का दबाव बनाने की बात कहते हुए केन्द्र में आवेदन दिया था। गुरुवार को दोनों पक्षों को केन्द्र में बुलाया गया। पति का कहना था कि पत्नी सभी तरह के गलत आरोप लगा रही है। वह जब चाहे अपनी मां के साथ मायके आ जाती है। इसके बाद आने में आनाकानी करती है। इधर पत्नी ने ससुराल जाने से साफ इंकार कर दिया जिसके चलते उन्हें कानूनी सलाह दी गई है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी