Naidunia
    Wednesday, October 18, 2017
    PreviousNext

    अब वन दूत खेतों में लगवाएंगे पौधे

    Published: Tue, 20 Jun 2017 10:53 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 10:53 PM (IST)
    By: Editorial Team

    शहडोल। गांव-गांव जाकर किसानों को पौध लगाने के लिए प्रेरित करेंगे और किसानों के खेतों में खुद जाकर पौधा लगवाएंगे। यह पुनीत काम वन विभाग द्वारा नियुक्त किये गए वन दूत करेंगे। कृषक समृद्धि योजना के तहत वन विभाग द्वारा शहडोल वन वृत्त के चारों मंडलों में इस साल 25 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसकी तैयारी जोर-शोर से चल रही है। वन दूतों की नियुक्ति कर दी गई है और गांव-गांव किसानों को पौधा रोपने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। किसानों को उनकी खुद की जमीन में पौधा लगाने के लिए गड्ढे खुदवाए जा रहे हैं और जैसे ही बारिश शुरु होगी। पौधा लगने लग जाएगा। शहडोल वन वृत्त में इस तरह की पहल पहली बार हो रही है जिसमें एक साथ लाखों किसानों के खेतों तक किसान दूत जाएंगे और पौधे लगवाएंगे।

    कहां कितने का लक्ष्य

    शहडोल वन वृत्त के चारों मंडलों में विभिन्न प्रजातियों के 25 लाख पौधे रोपने का लक्ष्य तय किया गया है। अलग-अलग मंडल वार लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसमें सबसे अधिक पौधे अनूपपुर वन मंडल में लगाए जाएंगे।

    मंडल लक्ष्य

    अनूपपुर 1500000

    उमरिया 750000

    द. शहडोल150000

    उ. शहडोल150000

    वन दूतों को यह लाभ मिलेगा

    वन विभाग द्वारा नियुक्त किये गए वन दूतों को प्रत्येक पौधे पर राशि दी जाएगी। एक पौधा लगवाने पर दो साल में सात रुपए वन दूत को मिलेंगे। पहले साल पौधा लगवाते समय 4 रुपए और दूसरे साल जब पौधा जीवित बचेगा तो 3 रुपए दिये जाएंगे। अभी वन दूतों को किसानों के खेतों में पौधा लगाने के लिए प्रेरित करने पर यही लाभ देने का प्रावधान किया गया है। हर मंडल में वन दूतों का चयन किया जा रहा। दक्षिण वन मंडल शहडोल में 24 वन दूत नियुक्त किये गए हैं। वहीं यहां 251 किसानों को पौधा लगाने के लिए वन दूतों ने भी चयन कर लिया है। इसी तरह अन्य तीन मंडलों में भी चयन प्रक्रिया चल रही है। उमरिया में भी 19 वन दूत नियुक्त कर दिये गए हैं।

    किसानों को मिलेगा निःशुल्क पौधा

    कृषक समृद्धि योजना के तहत वन विभाग किसानों को निःशुल्क पौधे उपलब्ध कराएगा। इन्हीं पौधों को वन दूत किसानों के खेतों में लगवाएंगे और दो साल तक उनकी देखरेख भी करवाएंगे। इसके अलावा किसानों को पौधों की देखरेख के लिए दो साल में 25 रुपए वन विभाग देगा। पहले साल पौधा लगाते समय 15 रुपए प्रति पौधा दिया जाएगा और दूसरे साल यदि पौधा खेत में जीवित रहेगा तो प्रत्येक पौधे 10 रुपए का भुगतान किया जाएगा। वन विभाग की मंशा है कि अपनी खुद की जमीन किसान पौधा लगाकर अतिरिक्त लाभ कमाएं और आर्थिक रूप से मजबूत हों। ऐसे पौधे ही रोपित किये जाएंगे जो जल्दी किसानों को लाभ दें।

    वर्जन

    कृषि समृद्धि योजना के तहत वन दूतों की नियुक्ति हर मंडल में की जा रही है। इस साल 25 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य तय किया गया है जिसकी तैयारी चल रही है।

    प्रशांत जाधव

    मुख्य वन संरक्षक, शहडोल

    और जानें :  # eeee e
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें