Naidunia
    Tuesday, October 24, 2017
    PreviousNext

    महाराष्ट्र में कीटनाशक छिड़काव से 34 किसानों की हुई मौत, DOA निलंबित

    Published: Fri, 13 Oct 2017 01:47 PM (IST) | Updated: Fri, 13 Oct 2017 02:05 PM (IST)
    By: Editorial Team
    pesticide 20171013 14548 13 10 2017

    यवतमाल। महाराष्ट्र के यवतमाल में कीटनाशक छिड़काव से 34 किसानों की मौत का मामला गर्मा गया है। इसके बाद राज्य सरकार ने जिला कृषि अधिकारी को निलंबित कर दिया है। बता दें कि कीटनाशक छिड़काव के कारण अब तक यवतमाल में सबसे ज्यादा 20, नागपुर में 7 और अकोला में 6 किसानों की मौत हो गई है।

    9 अक्टूबर को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने केंद्र और महाराष्ट्र सरकार के समक्ष इस मुद्दे को उठाया था। मामले में कार्रवाई करते हुए सरकार ने जिला कृषि विकास अधिकारी (डीओए) दत्तात्रेय कलसाई को निलंबित कर दिया है।

    बताया गया था कि पिछले तीन महीनों के दौरान, कपास के फसल पर किये गए कीटनाशक के छिड़काव के कारण हुए संक्रमण से कई किसानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनमें से कईयों की मौत हो गई और कईयों की हालत गंभीर है। इसके बाद राज्य सरकार ने इस मामले में जांच की भी घोषणा की थी। नतीजतन, एनएचआरसी ने इसके बाद मुख्य सचिव, महाराष्ट्र सरकार, केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय को नोटिस जारी कर चार सप्ताह के भीतर इस मामले में एक विस्तृत रिपोर्ट मांगी।

    दूसरी तरफ महाराष्ट्र कृषि मंत्री ने कहा कि किसान दस्ताने और सुरक्षात्मक उपकरण इस्तेमाल करने के निर्देशों का पालन नहीं करते हैं। राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों को 12 लाख रुपए की मुआवजे की राशि देने की घोषणा की थी। इसके आलावा राज्य सरकार के मुख्य सचिव को किसानों के मुफ्त और बेहतर इलाज सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए थे।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें