Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    मेहरून टोपी पर लाल हो गए CM वीरभद्र, बीच में ही छोड़ा कार्यक्रम

    Published: Wed, 13 Sep 2017 09:56 PM (IST) | Updated: Wed, 13 Sep 2017 11:28 PM (IST)
    By: Editorial Team
    virbhadra singh 2017913 22918 13 09 2017

    शिमला। मौका तो हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य संस्थानों के नींव पत्थर रखे जाने का था लेकिन स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के सामने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को मैरून टोपी क्या पहनाई, वीरभद्र सिंह उखड़ गए।

    दोनों में तू-तू मैं-मैं के मंजर के बाद मुख्यमंत्री ने न केवल टोपी फेंक दी बल्कि कार्यक्रम को बीच में छोड़ कर चले गए। यह सब कुछ ही पलों में हो गया। हिमाचल की टोपियों पर सियासत के रंग गहरे हैं, इस बात का प्रमाण इस कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने देखा और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री भी हैरान रह गए।

    राज्य अतिथि गृह पीटरहाफ में स्वागत समारोह के दौरान वीरभद्र सिंह ने गुस्से में यह कहते हुए सामने खड़े कौल सिंह को अपनी प्रतिक्रिया दे दी, 'मुझे लाल रंग पसंद नहीं है।' और चेहरे पर गुस्से के भाव लाते हुए टोपी फेंक दी।

    टोपी के रंग का इतना असर नजर आया कि मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह कुछ देर बाद ही कार्यक्रम को बीच में छोड़कर निकल गए। हर कार्यक्रम की तरह यहां पर भी पहले अभिनंदन करने की शुरुआत हुई।

    समारोह में माहौल सामान्य था लेकिन थाली में जैसे ही मैरून टोपी आई और कौल सिंह ने सीएम को सम्मानित करने के लिए उठाई माहौल बदल गया। लेकिन इस कार्यक्रम के दौरान जिस टोपी से वीरभद्र सिंह का सम्मान किया जा रहा था, वह कुल्लवी टोपी थी। उस टोपी में पंरपरागत डिजाइन की पट्टी बनी थी। लेकिन पट्टी बेहद हलके रंग की होने का कारण सीएम को यह मैरून रंग लाल लगा।

    हालांकि विधानसभा के बजट सत्र में स्वयं वीरभद्र सिंह ने कहा था कि टोपियों के रंग के आधार पर नेताओं को बांटना नहीं चाहिए। सभी को एक-दूसरे रंग की टोपियां पहननी चाहिए। उन्होंने नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल को यह तक कहा था, 'मैं लाल रंग की टोपी पहनूं और आप हरे रंग की किन्नौरी टोपी पहनें।

    हिमाचल में टोपियों की सियासत

    हिमाचल की सियासत में टोपियों का भी दखल है। वीरभद्र सिंह सहित कांग्रेस के अधिकतर नेता किन्नौर की हरे रंग वाली टोपी पहनते हैं। पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल और अन्य भाजपा नेता मैरून रंग की टोपी का इस्तेमाल करते हैं। कांगड़ा-चंबा में कई रंगों वाली टोपी चलती है, जिसे भाजपा के वरिष्ठ नेता शांता कुमार पहनते रहे हैं।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें