Naidunia
    Wednesday, August 23, 2017
    PreviousNext

    सपा को झटका, डॉ. सरोजनी भी भाजपा में शामिल

    Published: Sat, 12 Aug 2017 11:25 PM (IST) | Updated: Sat, 12 Aug 2017 11:31 PM (IST)
    By: Editorial Team
    sarojini12 12 08 2017

    लखनऊ। सपा की पूर्व एमएलसी डॉ. सरोजनी अग्रवाल शनिवार को भाजपा में शामिल हो गईं। इसके पहले सपा से एमएलसी रहे अशोक वाजपेयी, यशवंत सिंह और बुक्कल नवाब भी त्यागपत्र देकर भाजपा में शामिल हो चुके हैं। अभी कुछ और लोगों के भी त्यागपत्र देकर भाजपा में आने की चर्चा है।

    सपा में मची यह भगदड़ पार्टी के लिए झटका है। पार्टी मुख्यालय पर प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य की मौजूदगी में डॉ. सरोजनी ने भाजपा की सदस्यता ली। उनके साथ उनकी पुत्री और युवजन सभा की राष्ट्रीय सचिव डॉ. हिमानी अग्रवाल, मेरठ नगर निगम के पांच पार्षद और अन्य लोग भी सपा छोड़ भाजपा में शामिल हुए। डॉ. सरोजनी ने पिछले दिनों एमएलसी पद से त्यागपत्र दिया था, तभी से उनके भाजपा में जाने की चर्चा थी। वजह पूछने पर उन्होंने बताया कि पार्टी में नेताजी (मुलायम सिंह यादव) की उपेक्षा से आहत थीं। बदले माहौल में खुद को समायोजित न कर पाने की वजह से यह फैसला लेना पड़ा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नीतियों में आस्था जताई।

    डॉ. सरोजनी का सपा से जुड़ाव दो दशक से अधिक पुराना है। 1995 में वह जिला पंचायत मेरठ की अध्यक्ष और 1998-2010 तक सपा की राष्ट्रीय सचिव रही हैं। एमएलसी के रूप में उनका यह दूसरा कार्यकाल था। वह मो. आजम खां के कोटे से एमएलसी चुनी जाती रही हैं।

    समायोजन बन सकती है समस्या : जिस तरह विपक्षी दलों खासकर सपा के नेता भाजपा में आ रहे हैं, उससे इनका समायोजन समस्या बन सकती है। इसे लेकर पार्टी में पद की उम्मीद लगाए नेताओं में भी चर्चा है। सूत्रों के अनुसार फिलहाल पार्टी में शामिल होने के लिए किसी से कोई शर्त नहीं रखी गई है। जिन एमएलसी का कार्यकाल लंबा था, उनके समायोजन के बारे में विचार किया जा सकता है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें