Naidunia
    Thursday, August 24, 2017
    PreviousNext

    चैंपियंस ट्राॅफी में पाक की जीत के जश्न का ट्वीट कर फंसे हुर्रियत नेता मीरवाइज

    Published: Mon, 19 Jun 2017 09:50 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 08:54 AM (IST)
    By: Editorial Team
    meerwiseumarfarukh 30 04 2016 2017619 221725 19 06 2017

    श्रीनगर। आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत पर पाकिस्तान की जीत पर खुशियां मनाने और ईद से पहले ही कश्मीर में ईद के आगमन का ट्वीट कर हुर्रियत नेता मीरवाइज मौलवी उमर फारुक एक नए विवाद में फंस गए।

    उपमुख्यमंत्री डॉ. निर्मल सिंह ने उनकी निंदा करते हुए कहा कि वह सिर्फ अपनी उपस्थिति के लिए ऐसे बयान कर रहे हैं जबकि क्रिकेटर गौतम गंभीर ने उन्हें पाकिस्तान जाने की सलाह दी है।

    मजहबी नेता याकूब अब्बास ने मीरवाइज को निशाने पर लेते हुए कहा कि जीना-मरना हिंदुस्तान में और गीत गाने पाकिस्तान के, यह कौन सा तरीका और मजहब है।

    रविवार को ओवल में भारत की हार पर मीरवाइज मौलवी उमर फारुक ने पाकिस्तान को बधाई देते हुए ट्वीट किया कि चारों तरफ से पटाखों और आतिशबाजी की आवाज आ रही है। चारों तरफ जश्न का माहौल है।

    ऐसा लग रहा है कि जैसे ईद जल्दी आ गई हो। पाकिस्तानी टीम को जीत की बधाई। मीरवाईज यहीं तक सीमित नहीं रहे।

    वह अपने घर के बाहर पाकिस्तानी टीम की जीत का जश्न मनाते हुए जीवे जीवे पाकिस्तान के नारे लग रही भीड़ का हौंसला बढ़ाने के लिए नजरबंदी भंगकर, अपने घर से बाहर निकल आए।

    वह अपने घर की बाहरी दीवार के पास बने संतरी कक्ष की छत पर हाथ हिलाकर अपने समर्थकों को बधाई देते रहे और फिर नीचे भी उतर आए। लेकिन जल्द ही भीतर लौट गए।

    उप मुख्यमंत्री डॉ. निर्मल सिंह ने कहा कि मीरवाइज मौलवी उमर फारुक जैसे सिर्फ अपनी उपस्थिति का अहसास कराने और अपनी सियासत बचाने के लिए ऐसी हरकतें कर रहे हैं।

    उनका यह रवैया अत्यंत निंदनीय है। यहां कश्मीर में लोग पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद के कारण मर रहे हैं और वह पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाते हुए, कश्मीरी नौजवानों को बरगला रहे हैं। यह कौन सी सियासत है। उन्हें ऐसी हरकतों से कोई फायदा नहीं होगा और एक दिन कश्मीरी अवाम उनसे जरूर हिसाब लेगा।

    नेशनल पैंथर्स पार्टी के नेता हर्षदेव सिंह ने कहा कि मीरवाईज मौलवी उमर फारुक का यह आचरण राष्ट्रद्रोह के समान है। इसके बावजूद राज्य सरकार ने उन्हें सुरक्षा दे रखी है। उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, क्योंकि इनके प्रति बरती जा रही नरमी ही कश्मीर में अलगाववादियों और आतंकियों का मनोबल बढ़ा रही है।

    मीरवाइज पर सबसे कड़ा हमला बोला क्रिकेटर गौतम गंभीर ने। उन्होंने मीरवाइज को पाकिस्तान जाने की सलाह दे दी और इसमें मदद की पेशकश भी की।

    गंभीर ने ट्वीट करते हुए मीरवाइज के लिए लिखा आपके लिए एक सुझाव है, आप बार्डर पार क्यों नहीं चले जाते? आपको वहां बेहतर पटाखे (चीन निर्मित) और ईद का जश्न मिलेगा। मैं आपकी पैकिंग में मदद कर सकता हूं।

    शिया मजहबी नेता मोहम्मद याकूब ने मीरवाइज के ट्वीट पर ऐतराज जताते हुए कहा कि आप रहते हिंदुस्तान में हो, मरना, दफनाना हिंदुस्तान की जमीन पर होना है और गीत पाकिस्तान के गा रहे हो।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें