Naidunia
    Saturday, May 27, 2017
    PreviousNext

    पति को लगी गंदी फिल्मों की लत तो पत्नी पहुंची सुप्रीम कोर्ट

    Published: Thu, 16 Feb 2017 09:22 AM (IST) | Updated: Thu, 16 Feb 2017 11:58 AM (IST)
    By: Editorial Team
    addict 2017216 94135 16 02 2017

    नई दिल्ली। देश में चाइल्ड पॉर्नोग्राफी को लेकर विवाद जारी है और सुप्रीम कोर्ट भी इसके दुष्प्रभावों पर विचार कर रही है। इस बीच मुंबई की एक महिला ने सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई है कि उसके पति की गंदी फिल्में देखने की लत से उसे बचाया जाए। पति की यह लत उसकी शादीशुदा जिंदगी बर्बाद कर रही है।

    सुप्रीम कोर्ट में दायर अपनी याचिका में महिला ने कहा है कि उसके पति को एडल्ट फिल्मों की लत लग गई है। वो घंटों अपना काम छोड़कर ऐसी फिल्में देखता रहता है। महिला का कहना है कि उसकी शादी को 30 साल हो गए हैं और उसके दो बच्चे भी हैं लेकिन पति की एडल्ट फिल्में देखने की आदत उसके लिए मुसीबत बन गई है।

    महिला ने मांग की है कि सुप्रीम कोर्ट केंद्र सरकार को आदेश देकर इस तरह की सभी साइट्स को बैन करवाए। महिला ने दावा किया है कि पढ़ा लिखा होने के बाद भी जब उसके पति को इसकी लत लग गई है तो फिर युवाओं पर इसका क्या असर होता होगा। महिला के अनुसार मेरे पति घंटो एडल्ट फिल्में देखते रहते हैं और वक्त बर्बाद करते हैं। उनकी इस आदत के चलते मेरी शादीशुदा जिंदगी बर्बाद हो रही है।

    महिला जो एक सोशल वर्कर भी है उसका कहना है कि इस सब की शुरूआत 2015 में हुई जब उनके पति रोज ही एडल्ट फिल्में देखने लगे और धीरे-धीरे यह उनकी लत बन गई। महिला बताती है कि पति की इसी लत के चलते उसके बच्चों पर भी बुरा असर पड़ रहा है साथ ही उन दोनों की बीच भी झगड़े शुरू हो गए हैं।

    महिला का कहना है कि सोशल वर्क के कामों के दौरान मैंने देखा कि इंटरनेट पर आसानी से उपलब्ध इस चीज की वजह से और भी कई लोग बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। वो आगे कहती है कि यह चीज देश में पारिवारिक मूल्यों को बुरी तरह से प्रभावित कर रही है, हर उम्र के लोग विकृत और नैतिक रूप से दिवालिया होते जा रहे हैं। इस उम्र में जब मेंरे पति गुमराह हो सकते हैं तो सोचिए कम उम्र के लड़कों पर इसका क्या असर होता होगा।

    बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल केंद्र से कई चाइल्ड पोर्न पर प्रतिबंध लगाने के लिए कहा था।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी