Naidunia
    Wednesday, April 26, 2017
    PreviousNext

    हलाला के बाद भी शौहर ने ठुकराया, पुलिस से लगाई न्याय की गुहार

    Published: Fri, 21 Apr 2017 08:41 PM (IST) | Updated: Fri, 21 Apr 2017 08:45 PM (IST)
    By: Editorial Team
    teen talaq 21 04 2017

    सीतापुर । आठ साल पूर्व कुबूल, कुबूल, कुबूल करके शाहीन जिसकी बीवी बनी थी, उसी शौहर जुबेद ने मामूली विवाद में उसे तलाक दे दिया। दोनों के बीच रजामंदी हुई तो शाहीन को गैर मर्द के साथ हलाला करना पड़ा।

    हलाला की रस्म पूरी होने के बाद शाहीन ने उससे तलाक ले लिया, लेकिन जुबेद उसके साथ दूसरी बार निकाह करने से मुकर गया। प्रकरण नहीं सुलझा तो लाचार शाहीन ने उप्र के सीतापुर स्थित लहरपुर कोतवाली में शौहर व ससुरालीजनों के विरुद्ध तहरीर दी।

    सीतापुर के इंद्रानगर निवासी सब्बीर की 30 वर्षीया पुत्री शाहीन का निकाह आठ साल पूर्व लखीमपुर शहर कोतवाली क्षेत्र के महराजनगर निवासी जुबेद पुत्र अब्दुल जलील के साथ हुआ था। शाहीन के पांच साल का पुत्र व तीन साल की पुत्री भी है।

    आठ माह पूर्व मामूली विवाद के बाद जुबेद ने शाहीन को तलाक दे दिया था। जुबेद के मुंह से निकले तीन तलाक के अल्फाज ने शाहीन की जिदगी में जहर घोल दिया। कुछ लोगों के हस्तक्षेप के बाद जुबेद उसे दूसरी बार अपनाने को तैयार हो गया।

    इसके लिए शाहीन को सगीर अंसारी निवासी गौरिया प्रहलादपुर थाना लहरपुर के साथ हलाला की अवधि गुजारनी पड़ी। हलाला की रस्में पूरी होने के बाद सगीर ने शाहीन को तलाक दे दिया, लेकिन जुबेद ने उसे अपनाने से साफ इन्कार कर दिया।

    शाहीन की मिन्नतों पर भी जुबेद का दिल नहीं पसीजा तो लाचार शाहीन ने लहरपुर कोतवाली में तहरीर दी। इसमें शौहर के अलावा सास, ससुर, जेठ जुल्फकार व जेठानी आलम जहां पर निकाह न करने का आरोप लगाते हुए पुलिस से कार्रवाई की मांग की है।

    इंस्पेक्टर योगेश शाह ने बताया कि तहरीर मिली है। जुबेद के परिवारीजन को दो दिनों में आपसी सहमति से मामला सुलझाने का समय दिया है। प्रकरण न सुलझने पर केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी