Naidunia
    Wednesday, November 22, 2017
    PreviousNext

    IS की कैद से छूटे भारतीय पादरी टॉम पहुंचे वेटिकन

    Published: Wed, 13 Sep 2017 11:52 PM (IST) | Updated: Thu, 14 Sep 2017 12:28 AM (IST)
    By: Editorial Team
    wtrbscqvc 2017914 02755 13 09 2017

    तिरुअनंतपुरम। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) की कैद से 18 महीने बाद मुक्त कराए गए भारतीय पादरी टॉम उझुन्नालिल वेटिकन पहुंच गए हैं। केरल के रहने वाले पादरी को आइएस आतंकियों ने पिछले साल मार्च में यमन में अगवा कर लिया था।

    विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पादरी की रिहाई के लिए ओमान और यमन को धन्यवाद कहा है। विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने बुधवार को कहा कि पादरी को छुड़ाने के लिए कोई फिरौती नहीं दी गई।

    सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा कि उन्होंने वेटिकन पहुंचे फादर उझुन्नालिल से फोन पर बात की। फादर उझुन्नालिल ने अपनी रिहाई के लिए भारत सरकार खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। उन्होंने इस काम में मदद के लिए विभिन्न सरकारों और लोगों को भी धन्यवाद कहा।

    वीके सिंह ने कहा कि पादरी की रिहाई यह बताता है कि विदेश मंत्रालय शोर मचाए बिना चुपचाप काम करता है और आखिरकार काम पूरा करता है।

    केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कन्ननथनम ने कहा कि पादरी को सुरक्षित वापस लाने में विभिन्न स्तरों पर बेहद जटिल कूटनीतिक प्रयास किए गए। इसमें प्रधानमंत्री मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के स्तर के प्रयास शामिल हैं। उन्होंने कहा कि ओमान और सऊदी अरब समेत कई देशों ने इसमें भारत की मदद की।

    इस बीच पादरी टॉम उझुन्नालिल जिस चेलेस्टिन समूह से ताल्लुक रखते हैं उसके प्रवक्ता फादर पी वर्गीस ने बुधवार को यहां बताया कि उन्हें भारत लौटने में थोड़ा वक्त लगेगा। वह फिलहाल वेटिकन ले जाए गए हैं। विदेश मंत्रालय ने भी उनके वेटिकन पहुंचने की पुष्टि की है। उनका नया फोटो जारी किया गया है। इसमें वह बिना दाढ़ी के दिखाई पड़ रहे हैं।

    इससे पहले मंगलवार को ओमान के मस्कट शहर पहुंचने पर जब उनकी पहली तस्वीर सामने आई थी तब वह लंबे बालों और सफेद दाढ़ी में दिखाई दिए थे। ओमान सरकार के हस्तक्षेप से उन्हें मुक्त कराकर यमन से मस्कट लाया गया था।

    मार्च, 2016 में यमन के बंदरगाह शहर अदन में मदर टेरेसा की मिशनरीज ऑफ चैरिटी द्वारा संचालित आश्रय घर पर आतंकी हमले के दौरान पादरी उझुन्नालिल का अपहरण कर लिया गया था।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें