Naidunia
    Friday, November 24, 2017
    PreviousNext

    जम्‍मू : पुंछ व अखनूर में पाकिस्तान ने की भारी गोलाबारी, 5 घायल

    Published: Wed, 13 Sep 2017 11:48 PM (IST) | Updated: Wed, 13 Sep 2017 11:51 PM (IST)
    By: Editorial Team
    firing 13 09 2017

    जम्मू। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की चेतावनी से बौखलाए पाकिस्तान ने बुधवार को पुंछ में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर गोलाबारी जारी रखने के साथ जम्मू की अखनूर तहसील के परगवाल सेक्टर में भी अंतरराष्ट्रीय सीमा (आइबी) पर मोर्टार का प्रयोग शुरू कर दिया।

    पाकिस्तानी गोलाबारी में बीएसएफ के तीन जवानों सहित पांच लोग घायल हो गए। भारत ने भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया।

    देर रात तक सीमा पर गोलाबारी जारी थी, जिससे सीमांत क्षेत्रों में दहशत का माहौल है। ताजा हालात को देखते हुए सीमा पर अलर्ट कर दिया गया है।

    जम्मू कश्मीर के चार दिवसीय दौरे पर आए राजनाथ सिंह ने मंगलवार को अंतिम दिन कहा था कि पाकिस्तान गोलाबारी करने से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में उसे कड़ा सबक सिखाया जाएगा।

    बुधवार दोपहर बाद सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान अखनूर क्षेत्र में अपने इलाके में साफ सफाई का काम कर रहे थे, तभी अचानक पाकिस्तान ने जवानों को निशाना बना गोलीबारी शुरू कर दी।

    पाकिस्तान ने परगवाल सेक्टर में चिकन नैक इलाके में चार भारतीय चौकियों चक्क फगवाड़ी, राजपुरा, ब्राहमणवेला व दियोरा को निशाना बनाकर गोले दागने शुरू कर दिए।

    कुछ गोले रिहायशी क्षेत्रों में भी गिरे। बीएसएफ की 33 बटालियन के जवानों ने पाकिस्तानी गोलीबारी का उचित जवाब दिया। इसी इलाके में पाकिस्तान ने 26 अगस्त को भी गोले दागे थे।

    भारत की जवाबी कार्रवाई में उसके दो रेंजर्स मारे गए थे। उधर नियंत्रण रेखा पर तीन सेक्टरों साब्जियां, खड़ी करमाड़ा व पुंछ में देर शाम पाकिस्तानी सेना ने एक साथ गोलाबारी शुरू कर दी।

    पाकिस्तानी गोलाबारी में बीएसएफ के तीन जवान व दो नागरिक घायल हो गए। इनकी पहचान 137 बटालियन के कांस्टेबल जहांगीर अहमद, कांस्टेबल रविंद्र सिंह, रेडियो ऑपरेटर संदीप व स्थानीय निवासी मुहम्मद खुर्शीद व कबीर हुसैन के रूप में हुई है।

    पाकिस्तानी सेना आतंकियों को भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करवाने के लिए पिछले कई दिनों से संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रही है। यह गोलाबारी भी इसी की कड़ी माना जा रहा है।

    परगवाल द्वीप में फंसे हजारों लोग अखनूर सेक्टर के परगवाल द्वीप पर बसे भारतीय गांवों पर बुधवार दोपहर से पाकिस्तान ने गोलाबारी की, जिससे ग्रामीणों में दहशत है। देर रात तक रुक-रुक कर हो रही गोलाबारी के कारण लोग घरों में दुबके हुए हैं।

    इस द्वीप में 32 गांव हैं और वहां से भागने के लिए मात्र एक ही सड़क है, जो पाकिस्तान की रेंज में आती है। करीब 28 हजार आबादी वाले इस द्वीप में रहने वाले लोग फंस कर रह गए हैं।

    परगवाल द्वीप से पाकिस्तान की सीमा मात्र एक किलोमीटर है, जिससे परगवाल के लोगों के लिए आगे कुआं पीछे खाई की स्थिति पैदा हो गई है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें