Naidunia
    Saturday, June 24, 2017
    Previous

    NCERT की किताबों में गुजरात दंगों को नहीं लिखा जाएगा मुस्लिम विरोधी

    Published: Sat, 20 May 2017 10:03 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 12:01 PM (IST)
    By: Editorial Team
    ncert books 20 05 2017

    नई दिल्ली। एनसीईआरटी की 12वीं कक्षा की किताबों में अब गुजरात के 2002 के दंगों को मुस्लिम विरोधी नहीं बताया जाएगा। अब इन दंगों को 'गुजरात दंगा' कहा जाएगा। आजाद भारत के इतिहास में यह सबसे भीषण हिंसा मानी जाती है।

    साल 2007 में यूपीए के शासनकाल में प्रकाशित एनसीआरटी की किताब में बदलाव का फैसला एक बैठक में लिया गया। इस बैठक में सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन (CBSE) और नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) के प्रतिनिधि शामिल थे।

    आधिकारिक अनुमानों के अनुसार, फरवरी-मार्च 2002 में हुई इस हिंसा में करीब 800 मुस्लिम और 250 से अधिक हिंदू मारे गए थे। गोधरा के एक स्टेशन पर ट्रेन के डिब्बे में 57 हिंदू तीर्थयात्रियों को जिंदा जलाकर मार देने की घटना के बाद राज्य में हिंसा भड़क गई थी।

    पिछले तीन वर्षों से पाठ्यपुस्तकों में बदलाव एक विवादास्पद मुद्दा रहा है। राजस्थान, गुजरात, हरियाणा और महाराष्ट्र सहित कई भाजपा शासित राज्यों ने विद्यालय की पुस्तकों को इस तरह से बदल दिया है, जिससे विपक्षी दलों ने आरोप लगाया है कि सरकारें शिक्षा के भगवाकरण की कोशिश कर रही हैं।

    NCERT ने कहा कि यह कदम किताबों को अपडेट रखने का नियमित काम है। NCERT के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सीबीएसई द्वारा उठाए गए प्वाइंट्स को भी NCERT ने शामिल किया है। उन्होंने कहा कि किताबों में यह बदलाव कर दिए जाएंगे और साल के आखिर में किताबों के फिर से छपने के बाद दिखने लगेंगे।

    अधिकारी ने कहा कि यह समीक्षा एक सतत प्रक्रिया है और हर बार किताबों की छपाई से पहले हम नई स्वीकार्य प्रतिक्रिया को शामिल करते हैं। इन जानकारियों को किताबों में अपडेट भी किया जाता है। इस साल हम इसे अधिक योजनाबद्ध और व्यापक तरीके से कर रहे हैं। एनसीईआरटी सभी किताबों की समीक्षा कर रही है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि नवीनतम घटनाक्रम उसमें शामिल हो सकें।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी