Naidunia
    Thursday, April 27, 2017
    PreviousNext

    गर्मी से कहीं आफत तो कहीं राहत

    Published: Fri, 21 Apr 2017 10:45 PM (IST) | Updated: Fri, 21 Apr 2017 10:49 PM (IST)
    By: Editorial Team
    heat wave 21 04 2017

    नई दिल्ली । उत्तर भारत के मैदानी क्षेत्रों में तापमान बढ़ने से दिन में आग बरस रही है। घरों से कामकाज पर निकले लोगों का हलक कुछ मिनट में ही सूख जा रहा है। जबकि, पहाड़ी इलाकों में लोग मैदान की अपेक्षा थोड़ी राहत महसूस कर रहे हैं।

    वैशाख में ही जेठ सी गर्मी ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड समेत कई अन्य राज्यों में जन-जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है। हालांकि, बिहार में कई जगह बारिश हुई है। जिससे लोगों ने राहत की सांस ली।

    मौसम के बारे में जानकारी देने वाली संस्था स्काई मेट के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से पहाड़ी इलाकों में बारिश हुई है। हवा की दिशा पूर्वी है, जिसमें नमी है। नमी आने वाले दिनों में बढ़ सकती है और इससे दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में बारिश की संभावना है।

    राजधानी में आज पड़ सकती हैं बौछारें, मिलेगी राहत

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के तापमान में शुक्रवार को थोड़ी कमी जरूर दर्ज की गई है। बावजूद इसके लोगों की परेशानी कम नहीं हुई। मौसम विभाग के अनुसार, गर्मी के तेवर शनिवार को ढीले पड़ सकते हैं। पूर्वी हवा के चलने और पहाड़ी इलाकों व पंजाब के कुछ इलाकों में बारिश के चलते दिल्ली का मौसम भी बदल सकता है।

    मौसम विभाग के मुताबिक, 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवा चलने के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। अगले चार से पांच दिनों तक राजधानी में तपती गर्मी से राहत मिलने की संभावना है। गुरुवार को जहां पारा 43 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया था, वहीं शुक्रवार को तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जोकि सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक था।

    उप्र में गर्मी का प्रकोप, एक की मौत

    उप्र में शुक्रवार को तेज धूप के साथ चले लू के थपेड़ों ने लोगों को झुलसा डाला। गर्मी की वजह से मनुष्य ही नहीं बेजुबान भी गर्मी और प्यास से बेहाल रहे। कानपुर देहात में बुखार से पीड़ित किशोरी की मौत हो गई। बदनसीब बुंदेलखंड में चिलचिलाती गर्मी से चहुंओर लोग बेहाल हैं। बांदा में पारा 44 डिग्री दर्ज किया गया। बुंदेलखंड में ज्यादातर तालाब व पोखर सूख गए हैं और कुएं जवाब दे चुके हैं।

    झारखंड में जमशेदपुर और गढ़वा तपे, पारा 43 के पार

    झारखंड प्रचंड गर्मी की चपेट में है। शुक्रवार को जमशेदपुर राज्य का सबसे गर्म जिला रहा। यहां का अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। गढ़वा व सरायकेला में भी आसमान से आग बरसती रही।

    गढ़वा में अधिकतम तापमान 43.5 और सरायकेला में अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रांची, बोकारो में भी तापमान 40 के पार रहा। शनिवार व रविवार को उत्तर, उत्तर पूर्व और मध्य झारखंड में एक-दो स्थानों पर गर्जन के साथ हल्की बारिश की संभावना है।

    बिहार के उत्तर व दक्षिण पूर्वी जिलों में झमाझम बारिश

    सूबे से ट्रफ लाइन गुजरने के कारण अधिकांश इलाके में शुक्रवार को भी बादल छाए रहे। उत्तर व दक्षिण पूर्वी जिलों में आंधी के साथ झमाझम बारिश हुई। हालांकि, राजधानी समेत मध्य बिहार के कई जिलों में सिर्फ बूंदाबांदी हुई। शनिवार को भी राजधानी में बादल छाए रहने की उम्मीद है।

    पटना समेत प्रदेश के कुछ इलाके में हल्की बारिश हो सकती है। शुक्रवार को सुपौल, दरभंगा व भागलपुर में झमाझम बारिश रिकॉर्ड की गई। शुक्रवार को राजधानी में अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

    45 डिग्री पर झुलसा हरियाणा, बारिश की उम्मीद

    हरियाणा में पिछले एक सप्ताह से पड़ रही भीषण गर्मी से लोगों को राहत नहीं मिल रही है। अधिकतम तापमान लगातार बढ़ता जा रहा है, जिस कारण लोगों का घरों से निकलना भी मुश्किल हो गया है। शुक्रवार को रेवाड़ी, नारनौल, नूंह और चरखीदादरी जिले का अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया। केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्थान के मुताबिक, आने वाले 24 घंटे में मौसम करवट ले सकता है। क्षेत्र में बादल छा सकते हैं।

    हिमाचल में आग उगल रहे सूर्यदेव

    हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को सूर्यदेव ने रौद्र रूप दिखाया और यह दिन इस साल का सबसे गर्म रहा। प्रदेश में अधिकतम तापमान ऊना में 43.3 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। चौबीस घंटे के दौरान ही प्रदेशभर में औसतन अधिकतम व न्यूनतम तापमान में दो डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है।

    नालागढ़ व बद्दी में भी अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया जहां लोगों का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। प्रदेश के निचले क्षेत्रों में गर्मी अपनी चरम सीमा पर है। इस सीजन का सबसे गर्म दिन शुक्रवार रहा। यहां पर इससे पहले अब तक 42 डिग्री सेल्सियस का आंकड़ा पार नहीं किया था।

    जम्मू-कश्मीर में मौसम में सुधार

    जम्मू-कश्मीर में उच्च पहाड़ी क्षेत्रों में हुई बारिश के बाद बढ़ रहे तापमान पर कुछ अंकुश लगा है। तीन दिन बाद पारा 40.0 डिग्री सेल्सियस के नीचे आ गया। हालांकि, न्यूनतम तापमान अभी भी सात डिग्री सेल्सियस ऊपर चल रहा है। कश्मीर में निचले इलाकों में मौसम शुष्क तो ऊपरी क्षेत्रों में बारिश जारी रही।

    गुरुवार की रात भद्रवाह और बनिहाल में करीब आठ एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। जम्मू में भी बारिश के आसार बनते दिखने लगे, लेकिन तेज हवा के साथ मामूली बूंदाबांदी ने उम्मीद पर पानी फेर दिया। दिन का अधिकतम तापमान 39.3 डिग्री और सामान्य तापमान 35.0 डिग्री सेल्सियस है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी