Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव : दुर्लभ पांडुलिपियों में दिखेगी गीता की महत्ता

    Published: Tue, 14 Nov 2017 10:56 PM (IST) | Updated: Tue, 14 Nov 2017 11:11 PM (IST)
    By: Editorial Team
    gita haryana 14 11 14 11 2017

    कुरुक्षेत्र। अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में आने वाले पर्यटक दुर्लभ पांडुलिपियों के जरिये श्रीमद्भागवत गीता की महत्ता को जान सकेंगे। महोत्सव में उत्तर प्रदेश के नृत्य, ललित कला और अभिलेखागार विभाग की ओर से भगवान श्रीकृष्ण से जुड़ी झांकी एवं पांडुलिपि प्रस्तुति की जाएंगी।

    अभिलेखागार विभाग के पास 200 से 900 वर्ष पुरानी पांडुलिपि है। वहीं यूपी नाइट में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के भी पहुंचने की संभावना है।

    उपायुक्त सुमेधा कटारिया और उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग के उपनिदेशक अमित ने कहा कि हरियाणा और उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक विरासत को वीडियो के जरिए भी आदान-प्रदान किया जाएगा। यूपी के सभी धार्मिक स्थलों पर प्रचार-प्रसार के लिए होर्डिंग्स लगाएं जाएंगे।

    अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव का विधिवत आगाज 25 नवंबर से होगा। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के सभागार में अंतरराष्ट्रीय गीता संगोष्ठी का उद्घाटन 25 नवंबर को राष्ट्रपति रामनाथ कोविद करेंगे।

    इस संगोष्ठी मे जापान, मॉरीशस, इंडोनिशेया, रूस सहित आठ देशो के प्रतिनिधि भाग लेंगे। वहीं महोत्सव में सायंकालीन आरती में आरएसएस प्रमुख डॉ. मोहन भागवत शोभा बढ़ाएंगे।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें