Naidunia
    Monday, October 23, 2017
    PreviousNext

    ट्रेन की टिकट होगी सस्ती, जाने क्या है पूरा मामला

    Published: Fri, 13 Oct 2017 05:12 PM (IST) | Updated: Fri, 13 Oct 2017 05:15 PM (IST)
    By: Editorial Team
    ticket booking 13 10 2017

    नई दिल्ली। ट्रेन से यात्रा करने वालों जल्द टिकट बुक करने पर कम पैसे खर्च करने होंगे। दरअसल, केंद्र सरकार आईआरसीटीसी के जरिए ऑनलाइन टिकट बुक करने पर लगाए जाने वाले मर्चेंट डिस्काउंट रेट (एमडीआर) चार्ज को हटाने पर विचार कर रही है। यदि ऐसा होता है, तो ट्रेन के टिकट ऑनलाइन बुक करने पर सस्ते हो जाएंगे।

    आरबीआई ने डेबिट कार्ड पेमेंट (सरकारी पेमेंट सहित) से 1,000 रुपए तक के पेमेंट के लिए एमडीआर को घटाकर 0.25 फीसद और 1,000 से 2,000 रुपए के ट्रांजैक्शंस पर 0.5 फीसद कर दिया था। बड़े ट्रांजैक्शंस पर 1 फीसदी का एमडीआर लगता है।

    इसका मतलब साफ है कि आप जब भी डेबिट और क्रेडिट कार्ड के जरिए रेल टिकट बुक कराएंगे, तो आपको टिकट के अलावा कम रकम देनी होगी। केंद्रीय रेल मंत्री पियूष गोयल ने पिछले हफ्ते कहा था कि आईआरसीटीसी कन्ज्यूमर्स को मर्चेंट डिस्काउंट रेट देती है। मैं उससे इसे खत्म करने के लिए कह रहा हूं और हम इसके लिए बैंकों से भी बात कर रहे हैं।

    क्या होता है एमडीआर

    आईआरसीटीसी की ओर से उपभोक्ताओं को एमडीआर चार्ज लगाया जाता है। यदि यह एमडीआर शुल्क हटा लिया जाता है, तो ट्रेन की टिकट सस्ती हो जाएंगी। सरकार ने बुकिंग के डिजिटल मोड को प्रोत्साहित करने के लिए पिछले साल नवंबर में नोटबंदी के बाद से सेवा शुल्क माफ कर दिया था। इसके बाद से आईआरसीटीसी वर्तमान में सिर्फ एमडीआर शुल्क वसूल रहा है।

    इस सुविधा को पहले 30 जून और फिर 30 सितंबर तक बढ़ाया गया था। आईआरसीटीसी के माध्यम से ऑनलाइन टिकट बुकिंग करने पर सर्विस चार्ज 20 से 40 रुपए प्रति टिकट से होता है। रेलवे की टिकट एजेंसी आईआरसीटीसी को रेलवे बोर्ड ने 29 सितंबर को निर्देश दिया कि यूजर्स को दिए जाने वाले इस लाभ को मार्च 2018 तक बढ़ाया जाए।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें