Naidunia
    Saturday, July 22, 2017
    PreviousNext

    काली कमाई से बेनामी संपत्ति खरीदने पर लगेगा ब्रेक

    Published: Thu, 21 Jul 2016 08:57 PM (IST) | Updated: Fri, 22 Jul 2016 03:05 AM (IST)
    By: Editorial Team
    money   21 07 2016

    संजय मिश्र, नई दिल्ली

    कालेधन के कुबेर अपनी काली कमाई को बेनामी संपत्ति खरीदने के गोरखधंधे में नहीं लगा पाएंगे। मोदी सरकार अगले हफ्ते कालेधन के खिलाफ शिकंजा और कसने के लिए बेनामी संपत्ति बिल संसद में पेश करेगी। इसके जरिए ऐसा करने वालों के खिलाफ जेल भेजने से लेकर भारी जुर्माने तक का सख्त प्रावधान होगा।

    सरकार और विपक्षी दलों के बीच बेनामी संपत्ति और ट्रांसजेंडर बिल संसद से पारित कराने पर राजनीतिक सहमति बन गई है। गौरतलब है कि बुधवार को केन्द्रीय कैबिनेट ने इन दोनों बिलों को मंजूरी दे दी थी। इसके बाद संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने गुरुवार को दोनों सदनों में कांग्र्रेस समेत दूसरे विरोधी दलों के नेताओं से मशविरा किया।

    जिसमें इसे पारित कराने की सहमति बनी। अनंत कुमार ने पुष्टि की कि बेनामी संपत्ति बिल पारित कराने के लिए सरकार कृतसंकल्प है। उनका कहना था कि मोदी सरकार कालेधन के खिलाफ चौतरफा शिकंजा कसने के अभियान के तहत इस बिल को काफी अहम मानती है।

    तमाम राजनीतिक दलों को भी इस पर एतराज नहीं है। उम्मीद है कि अगले हफ्ते इसे संसद की मंजूरी मिल जाएगी। गौरतलब है कि पिछले साल बजट सत्र के दौरान बेनामी संपत्ति कानून में संशोधन का बिल लोकसभा में पेश किया गया था।

    इसके बाद तमाम चर्चाओं और संसदीय समिति के सुझावों के अनुरुप कैबिनेट ने संशोधित बिल को मंजूरी दी है। बेनामी संपत्ति बिल में रियल एस्टेट में बड़े पैमाने पर काले धन के इस्तेमाल को रोकने के कड़े प्रावधान किए हैं।

    राजस्व विभाग को बेनामी संपत्ति का पता लगाने और ऐसा करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के अधिकार देने का प्रस्ताव है। काली कमाई से फर्जी या दूसरे नामों पर संपत्ति खरीदने वालों को संपत्ति का 25 फीसदी से अधिक जुर्माना लगाया जा सकता है। उन्हें छह महीने से लेकर दो साल तक की जेल की सजा भी भुगतनी पड़ सकती है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी