Naidunia
    Friday, November 24, 2017
    PreviousNext

    सेंसर बोर्ड के सदस्यों ने निहलानी पर मनमानी करने का आरोप लगाया

    Published: Sat, 21 Nov 2015 12:58 AM (IST) | Updated: Sat, 21 Nov 2015 01:00 AM (IST)
    By: Editorial Team
    pahalaj 21 11 2015

    नई दिल्ली। सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी की कार्यशैली सवालों के घेरे में है। बोर्ड के दो सदस्यों ने निहलानी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उनका आरोप है कि सेंसर बोर्ड के प्रमुख निहलानी सदस्यों की राय लिए बगैर मनमर्जी से काम कर रहे हैं। फिल्म प्रमाणन के मामले में वह मनमानी फैसला कर रहे हैं। सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोलने सदस्यों में फिल्म निर्माता अशोक पंडित और नंदिनी सरदेसाई शामिल हैं।

    इस प्रकरण को लेकर अशोक पंडित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सूचना व प्रसारण मंत्री अरुण जेटली को पत्र लिखने वाले हैं। उनका कहना है, "मैं पीएम और सूचना मंत्री को हालात में सुधार के लिए पत्र लिखने जा रहा हूं। किसी फैसले में पूरे बोर्ड को विश्वास में लेना होगा। मिस्टर निहलानी मजाक बन गए हैं। बगैर संदर्भ के आप शब्दों को काट नहीं सकते हैं।"

    पंडित के अनुसार, "उन्होंने (निहलानी) राजर्षि बैनर की फिल्म "प्रेम रतन धन पायो" से शब्दों को काट दिया। आप इस तरह की साफ-सुथरी फिल्म से शब्द कैसे काट सकते हैं। ये (राजर्षि फिल्म) लोग साफ-सुथरी पारिवारिक फिल्म बनाने के लिए जाने जाते हैं। लेकिन इनकी फिल्म को भी सेंसर कर दिया गया।" जबकि नंदिनी के अनुसार, "नियुक्ति के बाद से ही निहलानी अपनी मनमानी से बोर्ड चला रहे हैं।"

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें