Naidunia
    Friday, September 22, 2017
    PreviousNext

    आईबी का अलर्ट : देश में आतंकी हमला होने का खतरा

    Published: Sat, 05 Mar 2016 09:58 PM (IST) | Updated: Sun, 06 Mar 2016 01:29 AM (IST)
    By: Editorial Team
    terror-attack-alert-ib 05 03 2016

    पठानकोट। पश्चिमी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल केजे सिंह ने कहा कि सेना के पास देश में आतंकी हमले होने संबंधी कई इनपुट हैं। इन सभी इनपुट पर सेना पूरी तरह मुस्तैद है।

    महाशिवरात्रि पर्व नजदीक है, संसद सत्र चल रहा है, हिमाचल प्रदेश में टी-20 मैच होने वाला है, ऐसे में पाकिस्तान में बैठे आतंकी कई तरह की योजनाएं बना रहे हैं। उनकी मंशा ज्यादा से ज्यादा जानमाल का नुकसान करने की है।

    शनिवार को पठानकोट के मामून कैंट पहुंचे केजे सिंह ने कहा कि पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन पर आतंकी हमले के बाद जांच में जुटी पाकिस्तानी टीम का यहां आना-न आना भारत सरकार के फैसले पर निर्भर है। अगर पाकिस्तानी टीम पठानकोट पहुंचती भी है तो सेना अपनी कोई रणनीतिक जानकारी साझा नहीं करेगी।

    तीन जिलों के सैकड़ों सैनिकों को संबोधित करने के बाद पत्रकार वार्ता में पश्चिमी कमान प्रमुख ने कहा कि हमले संबंधी जो इनपुट मिले हैं, वे काफी हैरान करने वाले हैं। हमने आतंकी संगठनों के मंसूबों को नाकामयाब करने के लिए पूरी तैयारी कर ली है।

    उन्होंने आतंकी हमले संबंधी इनपुट्स के बारे में विस्तृत जानकारी देने से इन्कार कर दिया। पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर के आरएसपुरा में पाकिस्तान सुरंग मिलने पर उन्होंने कहा कि इससे एक बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकामयाब कर दिया गया।

    गृह मंत्रालय और सुरक्षा एजेंसियों की एक टीम बनाई गई है जो सीमा से सटे इलाकों में छानबीन कर अन्य पाकिस्तानी सुरंगों का पता लगा रही है।

    इससे पहले लेफ्टिनेंट जनरल ने पठानकोट, कांगड़ा, जम्मू, सांबा, और कठुआ जिलों के पूर्व सैनिकों से भेंट की। इस मौके पर उन्होंने सेनाप्रमुख दलबीर सिह सुहाग का संदेश सुनाया। कहा कि सेनाप्रमुख ने पूर्व सैनिकों को हर सहयोग देने का वायदा किया है।

    पाक ने माना, घुसपैठिया मेरा

    कई साल बाद पाकिस्तान ने अपनी नापाक हरकत को स्वीकार किया है। पाकिस्तान ने शुक्रवार को मारे गए पाक तस्करों के गाइड को अपना नागरिक मान लिया है। बीएसएफ इसे लेकर चकित है कि कई साल बाद आखिरकार पाकिस्तान ने यह स्वीकार कर ही लिया है कि उनकी तरफ से सीमा पर हरकतें हो रही हैं और तस्करी व घुसपैठ के प्रयास भी।

    इसके बाद गृह मंत्रालय के आदेश पर पाक रेंजरों को मारे गए गाइड का शव सौंपने की औपचारिक तैयारी शुरू कर दी गई है। इसकी पुष्टि बीएसएफ सहित एसएसपी एचएस मान ने भी की है। शुक्रवार तड़के साढ़े चार बजे गजनीवाला सीमा पर पाकिस्तान से तस्करों को घुसपैठ करवाने आ रहे करीब 50 साल के नागरिक को बीएसएफ जवानों ने गोलियों से भून दिया था। उसके साथ कई तस्कर थे, लेकिन वे जान बचाकर भागने में कामयाब रहे थे।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें