Naidunia
    Monday, September 25, 2017
    PreviousNext

    सिमकार्ड के साथ जरूरी होगा आधार नंबर

    Published: Tue, 28 Oct 2014 08:34 PM (IST) | Updated: Tue, 28 Oct 2014 09:04 PM (IST)
    By: Editorial Team
    adhar-card-for-new-sim 20141028 2148 28 10 2014

    नई दिल्ली। आतंकी गतिविधियों और दूसरे अपराधों में मोबाइल फोन का इस्तेमाल रोकने और फर्जी उपभोक्ताओं से निजात पाने के लिए सरकार मोबाइल सिमकार्ड कनेक्शन को आधार से जोड़ने को अनिवार्य करने जा रही है। सूत्रों के अनुसार, "आतंकवाद और जबरन वसूली जैसे समाज विरोधी कार्यों में मोबाइल फोन कनेक्शनों के इस्तेमाल पर रोक लगाने के लिए सरकार सिमकार्ड के साथ आधार नंबर अनिवार्य करेगी।"

    हाल ही में आधार प्रोजेक्ट की समीक्षा के दौरान सरकार के शीर्ष पदाधिकारियों ने महसूस किया कि आधार नंबर को नए एवं पुराने मोबाइल फोन कनेक्शनों से जोड़ना सही कदम होगा। इससे पहले गृह मंत्रालय आधार नंबर को पहचान सत्यापन का एकमात्र जरिया बनाने पर अपनी आशंका जाहिर कर चुका है। हालांकि, हाल ही में मंत्रालय ने यह कहते हुए आधार का समर्थन किया है कि इससे लाभार्थियों का किसी भी समय, कहीं भी, कैसे भी सत्यापन मुमकिन है।

    राज्य सरकारों को भेजे पत्र में गृह मंत्रालय ने कहा, आधार कार्ड नंबर केवल एक व्यक्ति को ही जारी होता है इसलिए इससे उस व्यक्ति की पहचान कहीं भी और कभी भी आसानी संभव है। इसके अलावा आधार कार्ड वंचित और जरूरतमंद लोगों को बैंकिंग जैसी सुविधाओं का फायदा उठाने का मौका भी प्रदान करता है। सूत्रों के अनुसार, चूंकि देश की बड़ी आबादी के पास अभी भी आधार कार्ड नहीं हैं इसलिए सरकार सिमकार्डों को आधार नंबर से जोड़ने के काम में धीमी रफ्तार से आगे बढ़ेगी।

    70 करोड़ लोगों के पास आधार

    भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) अब तक देश में 70 करोड़ लोगों को आधार नंबर जारी कर चुका है। दिल्ली हिमाचल, केरल और आंध्र प्रदेश समेत नौ राज्यों में 90 फीसद लोगों के पास आधार नंबर हैं।

    यूआईडीएआई की ओर से मंगलवार को जारी बयान के मुताबिक, उत्तर प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड में दूसरे राज्यों के मुकाबले आधार नंबर कम जारी हुए हैं, लेकिन इन चार राज्यों में भी अब रफ्तार पकड़ चुकी है।

    चारों राज्यों में 34 करोड़ आबादी रहती है जहां, 8.93 करोड़ लोगों को आधार नंबर जारी किया जा चुका है। फिलहाल देशभर में 25 हजार से ज्यादा आधार केंद्र काम कर रहे हैं, जहां प्रतिदिन 10 लाख लोग आधार कार्ड बनवाने के लिए आते हैं। यूआईडीएआई ने इस संख्या को बढ़कार 15 लाख प्रतिदिन करने का लक्ष्य रखा है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें