Naidunia
    Saturday, December 16, 2017
    PreviousNext

    आत्मग्लानि हुई तो कुबूल किया बच्चे की बलि का जुर्म

    Published: Mon, 07 Sep 2015 11:13 PM (IST) | Updated: Mon, 07 Sep 2015 11:14 PM (IST)
    By: Editorial Team
    crime 07 09 2015

    अलीगढ़। खजाने के लालच में एक मासूम की बलि देने के बाद आरोपी हज पर चला गया। घटना की जांच में पुलिस सवा साल तक हाथ-पैर मारती रही। हज से लौटकर आत्मग्लानि में डूबे आरोपी ने जुर्म स्वीकार किया। फिलहाल आरोपी जेल में है। ये सनसनीखेज मामला कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला मुल्लापाड़ा का है।

    रिक्शा चालक साबिर के बेटे जाकिर (12) की 11 मार्च, 2014 को गला काटकर हत्या कर दी गई थी। शव इसी मुहल्ले में इमरान के निर्माणाधीन मकान में मिला था। इमरान ने ही अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

    सवा साल जांच और इमरान से तीन बार पूछताछ के बाद भी पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा। इसके बाद इमरान हज पर चला गया। हज से लौटकर इमरान व उसके भाई साजेब ने मृतक के पिता साबिर, मां परवीन के सामने अपराध स्वीकार करते हुए कहा कि खजाना पाने के लालच में तांत्रिक के कहने पर उसने बच्चे की बलि चढ़ाई थी। इस पर दस लाख रुपये लेने के प्रस्ताव को नकारते हुए मृत बच्चे के परिजन पुलिस के पास गए थे और पूरा मामला बताया था।

    और जानें :  # Man # Murder # Son # Crime
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें