Naidunia
    Saturday, November 25, 2017
    PreviousNext

    अर्धसैन्य बल के जवानों को भी शहीद का दर्जा

    Published: Tue, 27 Sep 2016 11:09 PM (IST) | Updated: Tue, 27 Sep 2016 11:13 PM (IST)
    By: Editorial Team
    indian forces 27 09 2016

    नई दिल्ली। युद्ध के दौरान मृत्यु होने पर अब बीएसएफ, सीआरपीएफ और आइटीबीपी जैसे अर्धसैन्य बलों के जवानों और अधिकारियों को भी सेना की तरह शहीद यानी "बैटल कैजवल्टी" का दर्जा मिलेगा। सरकार का यह कदम उनके परिवारों को शिक्षा और आजीविका के लिए विशेष लाभ उठाने का अधिकार देगा।

    गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, देश की सबसे बड़ी सीमा की रखवाली करने वाले बीएसएफ ने कुछ समय पहले इस संबंध में एक प्रस्ताव दिया था। गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ मंगलवार को हुई समीक्षा बैठक में इस प्रस्ताव को मंजूरी देने के लिए सैद्धांतिक रूप से सहमति बन गई है।

    अधिकारी के अनुसार, "बैटल कैजुएलिटी स्टेटस" ड्यूटी के दौरान मारे गए कर्मी के परिजन शैक्षणिक लाभ, मृतक के बच्चों के लिए ऋण, राज्य सरकार और निजी क्षेत्रों में नौकरी पाने जैसे विशेष लाभ के अधिकारी होंगे। पेट्रोल पंप अथवा गैस एजेंसी की तरह सार्वजनिक सेवा उपयोगिता को चलाने के लाइसेंस के लिए आवेदन भी कर सकेंगे।

    अधिकारी ने बताया, "कागजी औपचारिकताओं पर काम किया जा रहा है। गृह मंत्रालय जल्द ही आदेश जारी करेगा। यह बीएसएफ, सीआरपीएफ, आइटीबीपी, सीआइएसएफ, एसएसबी और एनडीआरएफ के जवानों और अधिकारियों पर लागू होगा।"

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें