Naidunia
    Sunday, May 28, 2017
    PreviousNext

    गर्भवती बालिका का दुराचारी से निकाह

    Published: Tue, 31 Mar 2015 10:57 PM (IST) | Updated: Tue, 31 Mar 2015 10:59 PM (IST)
    By: Editorial Team
    indian-litil-girl 31 03 2015

    बुलंदशहर। 11 वर्ष की उम्र गुड़िया-गुड्डे से खेलने की होती है, लेकिन इस उम्र में मासूम बालिका अपनी कोख में नन्हीं सी जान को सहेजे हुए है। उसे दर्द होता है, कष्ट होता है, लेकिन किससे कहे। आसपास की दुनिया ही उसकी दुश्मन बनी हुई है। माता-पिता और समाज के मौअज्जिज लोगों ने उसका निकाह उसी युवक से करा दिया जिसने उसके बचपन को रौंद दिया।

    यह घटना उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर स्थित औरंगाबाद कस्बे की है। दो महीने पहले यहां 30 वर्ष के युवक ने इस बालिका को अपनी हवस का शिकार बनाया था। रोती हुई खून से लथपथ बालिका किसी तरह अपने घर पहुंची और माता-पिता को सारा वाकया बताया। पर, बदनामी के डर से परिजन मामले को दबाकर बैठ गए। उसे भी इस बारे में किसी को न बताने की हिदायत दे दी।


    मासूम के परिवार की परेशानी तब और ज्यादा बढ़ गई, जब बीमार होने पर डॉक्टर को दिखाने पर उसे एक माह का गर्भ होने का पता चला। परिजनों ने आनन फानन में दुराचारी युवक से ही उसका निकाह कर अपने सिर से बोझ उतार फेंका। बालिका की मां का कहना है कि मेरी बेटी एक वर्ष से उस युवक से प्यार करती थी, इसलिए हमने उसकी रजामंदी से उसका निकाह कर दिया।

    इस मासूम के गर्भ में पल रहा शिशु अब तीन माह का है। स्कूल जाने की उम्र में उसे मां बनने के कठिन दौर से गुजरना पड़ रहा है। उसकी पीड़ा तो वही जाने, लेकिन मां-बाप अपने गुनाह का ठीकरा भी उसके सिर पर ही फोड़ रहे हैं। मामला संज्ञान में आया तो डीएम बी चंद्रकला ने जांच शुरु करा दी। उन्होंने बताया कि एक अधिकारी को गोपनीय तरीके से बच्‍ची का बयान लेने भेजा गया है। बच्‍ची परिवार एवं पति के खिलाफ बयान देती है, तो हम सख्त कार्रवाई करेंगे। उन्होंने बताया कि चिकित्सक से भी बालिका की जांच कराई जाएगी क्योंकि कानूनन उसका गर्भपात कराया जा सकता है। जांच रिपोर्ट के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी