Naidunia
    Saturday, November 18, 2017
    PreviousNext

    त्यौहारों के दौरान सिर्फ एक पैसा में रेल यात्रा बीमा

    Published: Thu, 06 Oct 2016 09:16 PM (IST) | Updated: Fri, 07 Oct 2016 08:02 AM (IST)
    By: Editorial Team
    rail 06 10 2016

    नई दिल्ली। त्यौहारों के दौरान रेल यात्रियों को सिर्फ एक पैसा में 10 लाख रुपये तक का दुर्घटना बीमा मिलेगा। इस दौरान यात्रियों की भीड़ को देखते हुए आइआरसीटीसी ने वैकल्पिक यात्रा बीमा के प्रीमियम को 92 पैसे से घटाकर मात्र एक पैसा करने का फैसला किया है। इसे शुक्रवार 7 अक्टूबर से लागू हो रही है और 31 अक्टूबर तक बुक किए गए सभी टिकटों पर लागू होगी। वैकल्पिक यात्रा बीमा योजना पिछले महीने ही शुरू की गई थी।

    इसके तहत मात्र 92 पैसे में यात्रियों का दुर्घटना बीमा किया जाता है। यदि यात्रा के दौरान रेलवे की गलती से कोई हादसा होता है और उसमें यात्री की मृत्यु हो जाती है तो उसके परिजनों को बीमा कंपनी की ओर से 10 लाख रुपये का एकमुश्त भुगतान प्राप्त होता है। जबकि यात्री के स्थायी रूप से विकलांग होने की स्थिति में 7.5 लाख रुपये और घायल होकर अस्पताल में भर्ती होने पर दो लाख रुपये मिलते हैं।

    यही नहीं, स्कीम के तहत आतंकवादी हमलों, डकैती, दंगा, शूट आउट या आगजनी के कारण कुछ समय के लिए ट्रेन का संचालन बाधित होने, यात्रा मार्ग बदले जाने, ट्रेन बदले जाने या किसी अन्य अप्रिय घटना के कारण मौत होने या चोट पहुंचने पर मृतक को ले जाने के लिए 10 हजार रुपये का मुआवजा अलग से देने का प्रावधान है। वैकल्पिक बीमा योजना के तहत मिलने वाली रकम रेलवे की ओर से ट्रेन दुर्घटनाओं के बाद दिए जाने वाले चार लाख रुपये तक के मुआवजे से अतिरिक्त है।

    आइआरसीटीसी के सीएमडी ए. के. मनोचा ने कहा, "गुरुवार 6 अक्टूबर को सुबह 8 बजे तक 1,20,87,525 यात्रियों ने इस योजना का चयन किया था। इस वर्ष 1 सितंबर से शुरू की गई योजना को 29 सितंबर तक एक करोड़ यात्रियों की स्वीकृति मिल चुकी थी। योजना की बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए हमने इसके प्रीमियम को त्यौहारों के दौरान कम करने का फैसला किया है। इसका मकसद अधिक से अधिक यात्रियों को इस योजना से लाभान्वित करना है।"

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें