Naidunia
    Monday, September 25, 2017
    PreviousNext

    60 साल से अधिक उम्र के लोग तमिलनाडु के मंदिर में नहीं कर सकेंगे लोगों का मुंडन

    Published: Fri, 17 Feb 2017 12:29 PM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 12:32 PM (IST)
    By: Editorial Team
    tonsura tn temple 17 02 2017

    मदुरै। मद्रास उच्च न्यायालय ने कहा है कि 60 साल से अधिक उम्र के डिंडीगुल जिले में पलानी मंदिर में भक्तों के सिर मुंडन का काम नहीं कर सकेंगे। उनके हाथ कांपने के कारण कई लोग घायल हो जाते हैं, जिसे देखते हुए यह फैसला किया गया है।

    हाई कोर्ट ने इस संबंध में मंदिर प्रबंधन के आदेश को रद्द कर दिया। इस संबंध में पलानी के एक सेवानिवृत्त नाई ने याचिका दायर कर श्री धांडायुथपानी स्वामी मंदिर, पलानी के कार्यकारी अधिकारी के आदेश को चुनौती दी थी। मंदिर प्रबंधन ने तर्क दिया कि थाई पुसम त्योहार के दौरान केवल तीन महीने के लिए लाइसेंस दिया जाता है।

    इस पर कोर्ट ने कहा कि जब कोई 65 साल का कोई व्यक्ति हाथ कांपने के कारण किसी श्रद्धालु के कान काट देगा तब क्या होगा। याची ने कहा कि मंदिर में 319 लोगों के पास मुंडन करने का लाइसेंस है।

    गुरुवार को एक बेंच पलानी में मंदिर के प्रबंधन के एक आदेश को खारिज कर दिया, जिसमें 60 साल से अधिक आयुवर्ग के लोगों को मुंडन करने की इजाजत दी थी।

    न्यायमूर्ति ए सेल्वम और पी कलइयार्सन की खंडपीठ ने सेवानिवृत्त हो चुके के कुप्पाराज की याचिका पर यह आदेश पारित किया है। कुप्पाराज ने पलानी मंदिर के कार्यकारी अधिकारी के आदेश को चुनौती दी थी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें