Naidunia
    Monday, October 23, 2017
    PreviousNext

    लालू परिवार की बेनामी संपत्तियां अटैच, पत्नी, बेटे, दामाद और बेटियों पर IT की कार्रवाई

    Published: Tue, 20 Jun 2017 07:45 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 11:01 PM (IST)
    By: Editorial Team
    rabri-devi-620x400 20 06 2017

    नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रमुख और चारा घोटाले के दोषी लालू प्रसाद यादव के परिवार की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

    आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति कानून के तहत सख्त कदम उठाते हुए 1,000 करोड़ रुपये के कर चोरी और जमीन सौदों के मामले में लालू की पत्नी, बेटे, बेटियों और दामाद की करोड़ों रुपये की बेनामी संपत्ति अटैच करने के बाद नोटिस जारी किया है।

    बेनामी संपत्ति कानून के तहत दोषी पाए जाने पर सात साल कारावास की सजा और भारी भरकम जुर्माना लगाया जा सकता है।

    सूत्रों के मुताबिक, आयकर विभाग ने इस बाबत लालू की पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, बेटे और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, बेटी मीसा यादव, दामाद शैलेश कुमार और दो अन्य बेटियों- चंदा यादव और रागिनी यादव को नोटिस जारी किया है।

    इनको यह नोटिस बेनामी लेन-देन (निषेध) कानून की धारा 24(3) के तहत जारी किया है। इस नोटिस के जरिये दिल्ली और पटना स्थित जो बेनामी संपत्तियां अटैच की जा रही हैं उनकी कागजों में कीमत 9.32 करोड़ रुपये है जबकि बाजार मूल्य 170 से 180 करोड़ रुपये है।

    कागजों में तो ये संपत्तियां किसी और के नाम दर्ज हैं जबकि इनके असली मालिक लालू के परिवार के सदस्य हैं। मालूम हो कि विभाग ने इस मामले में पिछले महीने देशव्यापी तलाशी अभियान चलाया था। आयकर विभाग का कहना है कि लालू के परिजनों ने अपनी संपत्ति को बेनामी तरीके से छुपाकर रखा।


    क्या है बेनामी संपत्ति :

    बेनामी संपत्ति वह है जिसका असली मालिक तो कोई और है जबकि कागजों में वह संपत्ति किसी दूसरे व्यक्ति के नाम है। यह कानून 1988 में बना था, लेकिन इसे पिछले साल एक नवंबर से लागू किया गया है।


    अटैच संपत्तियां

    आयकर विभाग की सूची में 14 संपत्तियां हैं। इनमें एक बंगला, एक फॉर्म हाउस और 12 प्लॉट शामिल हैं :-

    1. फॉर्म हाउस नंबर 26, पालम फॉर्म्स, बिजवासन, दिल्ली

    कागजों पर नाम :-मिशेल पैकर्स एंड प्रिंटर्स प्राइवेट लिमिटेड

    असल मालिक :- मीसा भारती और उनके पति शैलेश

    बाजार मूल्य :- करीब 40 करोड़ रुपये

    2. बंगला नंबर- 1088, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी, दिल्ली

    कागजों में नाम :- एबी एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड

    असल मालिक :- तेजस्वी यादव, चंदा यादव और रागिनी यादव

    बाजार मूल्य :- 40 करोड़ रुपये

    3. नौ प्लॉट, जालापुर, थाना दानापुर, पटना

    कागजों में नाम :-डिलाइट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड

    असल मालिक :- राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव

    बाजार मूल्य :- 65 करोड़ रुपये

    4. तीन प्लॉट, जालापुर, थाना दानापुर, पटना

    कागजों पर नाम :- एके इन्फोसिस्टम

    असल मालिक :- राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव

    बाजार मूल्य :- 20 करोड़ रुपये

    राबड़ी के पटना में 18 फ्लैट : सुशील मोदी

    बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को लालू परिवार संपत्तियों को लेकर नया खुलासा किया।

    उन्होंने कहा कि पटना में 18,652 वर्ग फीट में बने कॉम्प्लेक्स में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के 18 फ्लैट हैं। इनकी कीमत 20 करोड़ रुपये से अधिक है।

    जिस जमीन पर यह कॉम्प्लेक्स बना है उसे राबड़ी देवी ने लालू प्रसाद यादव के रेलमंत्री रहते लिखाया था। यह कॉम्प्लेक्स लालू की मां मरछिया देवी के नाम पर है।

    सुशील मोदी ने कहा कि राबड़ी देवी ने दानापुर के जलालपुर और शेखपुरा मौजा में दो जमीनें तीन ऐसे लोगों से लिखवाईं जिनके परिजनों को रेलवे में नौकरी दी गई थी।

    इन दोनों जमीनों पर फरवरी, 2011 में श्रेया कंस्ट्रक्शन के अमरेंद्र कुमार सिन्हा से कॉम्प्लेक्स बनाने के लिए एग्रीमेंट किया गया।

    इसके मुताबिक 37,405 वर्ग फीट में 36 फ्लैट बनाए जाने थे जिसमें दोनों की हिस्सेदारी 50-50 प्रतिशत थी। इस तरह राबड़ी देवी रेलवे में नौकरी देने की कीमत पर पार्किंग के साथ 18 फ्लैट की मालकिन बन गईं।

    इसके अतिरिक्त दानापुर के सगुना मौजा में नया टोला के पास राजद की पूर्व सांसद कांति सिंह की पहले लीज पर और बाद में बेची दिखाई गई 62 डिसमिल जमीन पर पहले से ही 18 हजार वर्ग फीट में कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स का निर्माण किया जा रहा है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें