Naidunia
    Tuesday, August 22, 2017
    PreviousNext

    FACEBOOK पर माशा अल्लाह के कमेंट्स हराम, मुफ्ती ने कहा शरीयत के खिलाफ

    Published: Tue, 20 Jun 2017 11:02 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 11:08 PM (IST)
    By: Editorial Team
    fbfb 20 06 2017

    बरेली। फेसबुक पर लोग अपनी या अपने किसी खास की फोटो अपलोड करते हैं। उसके बाद उस पर कमेंट्स आने लगते हैं। सभी अपनी तरह से तारीफ बयां करते हैं। कोई बहुत खूब तो कोई अति सुंदर लिख देता है।

    यहां तक तो ठीक है। इससे आगे बढ़े और माशा अल्लाह व सुभान अल्लाह जैसे अल्फाज लिखे तो शरीयत का दायरा लांघ जाएंगे। गुनहगार होंगे। बहुत से मुस्लिमों को पता नहीं होगा कि उनका यह अमल शरीयत के खिलाफ है।

    इसके लिए मना फरमाया गया है। ऐसा किया तो तौबा करनी पड़ेगी। इस सिलसिले में मरकजी दारुल इफ्ता दरगाह आला हजरत के सदर व जानशीन मुफ्ती आजम हिद मुफ्ती अख्तर रजा खां अजहरी मियां से ऑनलाइन सवाल किया गया था।

    पूछा गया था कि फेसबुक पर कुछ लोग तस्वीर अपलोड कर देते हैं। उसे देखकर फ्रेंड्स माशा अल्लाह और सुभान अल्लाह लिखते हैं। क्या ऐसा करना सही है, रहनुमाई फरमाएं।

    सीधे जवाब मिला है कि ऐसा करना नाजायज और हराम है। फौरन तौबा कर लेना चाहिए। जब तक तौबा नहीं कर लेता गुनहगार होगा।

    ऐसे इमाम के पीछे नमाज नहीं

    जानशीन मुफ्ती आजम हिद ने एक सवाल के जवाब में यह भी कहा कि मोबाइल में किसी जानदार की तस्वीर देखने और डाउनलोड करने वाले इमाम के पीछे नमाज नहीं होगी। अगर उसका यह अमल साबित हो तो उसे इमाम बनाना ही नाजायज और गुनाह का सबब होगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें