Naidunia
    Wednesday, October 18, 2017
    PreviousNext

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज लखनऊ में 51 हजार साधकों के साथ करेंगे योग

    Published: Tue, 20 Jun 2017 10:34 PM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 10:38 PM (IST)
    By: Editorial Team
    pm modi yoga day 20 06 2017

    नई दिल्ली। भारत समेत दुनियाभर के 150 देश बुधवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाएंगे। देश में सबसे बड़ा आयोजन लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान पर होगा।

    यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 51 हजार लोगों के साथ विभिन्न योग आसन करेंगे। 90 मिनट का कार्यक्रम सुबह 6.30 बजे शुरू होगा।

    इसमें पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मायावती को भी बुलाया गया है। कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के लिए खास तरह की टी-शर्ट तैयार कराई गई है।

    प्रधानमंत्री की मौजूदगी के चलते रमाबाई अंबेडकर मैदान और उसके चारों ओर चाकचौबंद सुरक्षा व्यवस्था की गई है। आयुष मंत्रालय के मुताबिक, देशभर में योग दिवस के 5,000 से ज्यादा आयोजन होंगे।

    मालूम हो, पहला योग दिवस 2015 में मनाया गया था। माईगव पर भेजनी होंगी तस्वीरें : 2015 में नरेंद्र मोदी का सेल्फी विद डॉटर अभियान खासा चर्चित और सफल रहा था।

    इसी से प्रेरित होकर इस बार मोदी सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने और लोगों को उससे जोड़ने के लिए एक नयी योजना पेश की है। इसमें योग दिवस पर परिवार की तीन पीढ़ियों की एक साथ योग करते हुए तस्वीरें आमंत्रित की गई हैं।

    तस्वीर माईगव पर भेजकर न्यू इंडिया चैंपियनशिप में भाग लेने का मौका दिया गया है। चैंपियनशिप का उद्देश्य नए भारत के निर्माण में नागरिकों को शामिल करना और नए भारत के निर्माण की दिशा में उनके विचार व सुझाव को प्रकट करने का मौका देना है।

    न्यू इंडिया चैंपियनशिप के तहत नागरिक कई गतिविधियों में भाग लेकर अंक अर्जित कर सकते हैं। पिछले वर्षों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसे प्रतिभागियों से रूबरू होते रहे हैं।

    नए भारत को लेकर अपने विचार और विश्वास के आधार पर नारा भी तैयार करके भेजा जा सकता है।

    इसके लिए माईगव की तीन साल की वेबसाइट थ्रीइयर्समाईगवडाटइन के न्यू इंडिया चैंपियनशिप सेक्शन में जाकर हैशटैग थ्री जेन योगा का इस्तेमाल करते हुए प्रविष्टियां भेजी जा सकती हैं।

    माईगव के सीईओ गौरव द्विवेदी ने कहा कि परिवार की तीन पीढ़ियों के एक साथ योग करते हुए तस्वीरें साझा करने के जरिये न सिर्फ कार्यक्रम में जनभागीदारी सुनिश्चित होती है बल्कि इससे समाज के मूल मूल्यों को मजबूती भी मिलती है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें