Naidunia
    Saturday, October 21, 2017
    PreviousNext

    गैंगरेप मामले में इस कारण बाहर निकाला गया 8 माह पूर्व दफनाया गया नवजात का शव

    Published: Mon, 19 Jun 2017 11:54 AM (IST) | Updated: Mon, 19 Jun 2017 05:42 PM (IST)
    By: Editorial Team
    rajasthan baby grave 2017619 174159 19 06 2017

    जयपुर। राजस्थान के नागौर में एक गैंगरेप मामले में डीएनए जांच के लिए पुलिस को नवजात का आठ माह पूर्व दफनाया गया शव बाहर निकालना पड़ा है। पीड़िता ने उसके मृत बच्चे की डीएनए जांच दोबारा कराने की मांग की थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है। जांच दल ने आठ माह पूर्व दफनाए शव को बाहर निकालकर डीएनए के लिए नमूने लिए।

    गत वर्ष 8 अगस्त को अलाय निवासी आरएसी कांस्टेबल की पत्नी ने आरोप लगाया था कि गांव के एक शिक्षक कैलाश, पुलिसकर्मी सुभाष व एक अन्य युवक सहीराम ने उसके साथ कई बार गैंगरेप किया। रिपोर्ट में यह भी आरोप लगाया था कि उसके पेट में बच्चा है और वह गैंगरेप की वजह से हुआ है।

    मामला दर्ज कराने के कुछ समय बाद यानी 26 अगस्त को पीड़िता ने बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया, लेकिन जन्म के 5 दिन बाद ही नागौर के जेएलएन अस्पताल में बच्चे की मौत हो गई। इसे दफना दिया गया था। मामले की सुनवाई चल रही है और इसी दौरान पीड़िता ने एक बार फिर बच्चे की डीएनए जांच की मांग की है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें