Naidunia
    Wednesday, April 26, 2017
    PreviousNext

    कहीं शादी के लिए तो कही अंतिम इच्छा के लिए साफ हुआ गांव

    Published: Tue, 10 Jan 2017 01:14 PM (IST) | Updated: Tue, 10 Jan 2017 01:22 PM (IST)
    By: Editorial Team
    cleanindia 10 01 2017

    जयपुर। राजस्थान के दो गांवों में सफाई अभियान की अनोखी वजहें सामने आई है। एक गांव में अपनी शादी के लिए खुद दूल्हे ने सफाई अभियान चलाया, वहीं एक अन्य गांव में बुजुर्ग की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए गांव को साफ किया गया।

    जोधपुर जिले के तापू गांव में सफाई की अनोखी वजह सामने आई है। यहां रहने वाले चैनाराम की 16 जनवरी को शादी है और शादी के कार्ड बांटते समय उन्‍हें महसूस हुआ कि गांव मे गंदगी बहुत है जो शादी का मजा खराब करेगी। सुसरालवालों पर भी अच्‍छे प्रभाव नहीं पड़ेगा। उन्होंने गांव में सफाई अभियान के लिए सरपंच व अन्य गांववालो से बात की। गांव वाले भी राजी हो गए। गांव में जेसीबी मंगवाई गई और कचरा, झडियां आदि हटा कर पूरे गांव को साफ सुथरा बना यि गया। एक रास्ता जो बेकार झाड़‍ियों और कचरे की ढेर से गली जैसा रह गया था अब 24 फीट चौड़ा हो गया।

    जेब्रा लाइन क्रॉस की तो कार वाले को मिली ऐसी सजा

    चैनाराम के अनुसार यह गांव खुले में शौच से मुक्‍त तो हो गया, लेकिन खुले में कचरा डालने की आदत बनी हुई थी। अब सब गांव वालों ने गांव को इसी तरह साफ सुथरा रखने का प्रण लिया है। उधर हनुमानगढ़ जिले के उदासर गांव में एक बुजुर्ग हरिराम की मौत हो गई। उनकी अंतिम इच्छा थी कि मौत के बाद मृत्यु भोज जैसी सामजिक कुरीतियों पर पैसा खर्च नही किया जाए। ऐसे में गांव वालों ने अंतिम संस्कार के तुरंत बाद गांव में सफाई अभियान चलाया और पूरे गांव को साफ सुथरा बना दिया।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी