Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    अजमेर में उर्स से पहले आया ईरान से तोहफा

    Published: Tue, 21 Mar 2017 01:52 PM (IST) | Updated: Wed, 22 Mar 2017 08:05 AM (IST)
    By: Editorial Team
    urs khwaza 21 03 2017

    जयपुर। अजमेर में ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के 805वें उर्स से पहले ईरान सरकार की ओर से एक विशेष तोहफा यहां भेजा गया है। इसे ‘तुगरा’ कहा जाता है। इस तोहफे को दरगाह के बुलंद दरवाजे पर लगाया गया है।

    26 मार्च को केन्द्रीय अल्पसंख्यक मामलात मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी इसका लोकार्पण करेंगे। तुगरा में ख्वाजा गरीब नवाज की शान में अशआर लिखे गए है।

    किन्नरों को कमरे मिलने में आ सकती है मुश्किल

    उर्स में देश भर से आने वाले किन्नरों को इस बार कमरे मिलने में परेशानी आ सकती है। प्रशासन की ओर से किन्नरों के लिए एक तुगलकी फरमान जारी किया गया है। जिसमें सभी होटल व गेस्ट हाउस मालिकों से कहा गया है कि यहां आने वाले किन्नरों को ऐसे कमरे न दिए जाएं जिनकी खिड़कियां सड़क पर खुलती हो। दरअसल यहां आने वाले किन्नरों के कारण सड़क यातायात प्रभावित होता है। वे होटलों और गेस्ट हाउस की खिड़कियों सजकर खड़े रहते है और उन्हें देखने के लिए जाने वाले लोगों से इशारे करते है। जिसके कारण सड़कों पर जमघट लग जाता है। इससे पुलिस को यातायात संभाालने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

    दरगाह के खादिम बताते है कि किन्नर बड़ी संख्या में उर्स के दौरान अजमेर आते है। इनके कई समूहों की ओर से ख्वाजा साहब के दरबार में चादर भी चढ़ाई जाती है। इस समुदाय की सूफी संत में काफी आस्था है। इसलिए उर्स प्रारंभ होने से कई दिन पूर्व ही इनका यहां पहुंचना प्रारंभ हो जाता है। पूरे उर्स के दौरान देशभर से आने वाले किन्नर यहीं रहते है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें