Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    धोनी पर निशाना साधने वालों की कप्तान कोहली ने ऐसे की बोलती बंद

    Published: Wed, 08 Nov 2017 02:45 PM (IST) | Updated: Sat, 11 Nov 2017 02:40 PM (IST)
    By: Editorial Team
    virat on dhoni 2017118 152550 08 11 2017

    तिरुवनंतपुरम। न्यूज़ीलैंड को तीसरे टी-20 मैच में 6 रन से मात देने का साथ ही भारतीय टीम ने ये सीरीज़ भी अपने नाम कर ली। इस जीत के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान धोनी के आलोचकों को करारा जवाब दिया।

    दरअसल राजकोट में खेले गए टी-20 मैच में भारत के दिग्गज बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी की फॉर्म पर सवाल खड़े हो रहे हैं, जिस पर वर्तमान में टीम के कप्तान विराट कोहली ने प्रतिक्रिया देते हुए धोनी का समर्थन किया है। कोहली ने अपनी प्रतिक्रिया में टीम में धोनी के महत्व और बढ़ती उम्र के बावजूद उनकी फिटनेस पर जोर दिया।

    तिरुवनंतपुरम में खेले गए तीसरे टी-20 मैच में जीत हासिल करने के साथ ही भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को मात देकर सीरीज अपने नाम की। कोहली ने भारतीय टीम में धोनी की मौजूदगी पर उठ रहे सवालों पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'पहले, तो मुझे यह समझ नहीं आ रहा है कि लोग उन पर उंगली क्यों उठा रहे हैं? मैं इस बात को समझ नहीं पा रहा हूं।'

    कप्तान कोहली ने कहा, 'अगर मैं तीन बार अपनी क्षमता को साबित करने में असफल रहता हूं, तो कोई भी मुझ पर उंगली नहीं उठाएगा, क्योंकि मैं 35 साल का नहीं हूं। वह (धोनी) फिट हैं और उन्होंने सारे फिटनेस टेस्ट पास किए हैं। वह हर संभव तरीके से टीम के लिए योगदान दे रहे हैं। फिर चाहे रणनीतिक तौर पर हो या बल्लेबाजी से।अगर आप श्रीलंका और आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई सीरीज को देखें, तो उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया था।'

    कोहली ने कहा कि लोग लगातार एक ही इंसान पर निशाना साधते जा रहे हैं, जो सही नहीं है। धोनी टीम में अपनी भूमिका और खेल को बेहतर तरीके से जानते हैं। हालांकि, जरूरी नहीं हैं कि वह हर बार बेहतर प्रदर्शन कर पाएं। दिल्ली के टी-20 मैच में उन्होंने आते ही जो छक्का मारा था, उसे मैच के बाद कई बार दिखाया गया। हर कोई खुश था और अब अचानक से अगर वह एक मैच में अच्छा स्कोर नहीं कर पा रहे हैं, तो सभी उनके पीछे ही पड़ गए हैं।

    उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि लोगों को थोड़ा धैर्य रखना चाहिए। धोनी एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जो क्रिकेट के हर प्रारूप की समझ रखते हैं। वह एक समझदार इंसान हैं। वह हर प्रारूप में अपनी भूमिका को अच्छे से पहचानते हैं। इसलिए, मुझे नहीं लगता कि किसी और को उनके जीवन का फैसला लेने का हक है।'

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें