Naidunia
    Tuesday, October 17, 2017
    PreviousNext

    भारतीय हॉकी खिलाड़ियों ने काली पट्टी बांध खेला पाक से मैच, रौंद डाला

    Published: Mon, 19 Jun 2017 09:28 AM (IST) | Updated: Tue, 20 Jun 2017 02:02 PM (IST)
    By: Editorial Team
    indian hockey 19 06 2017

    लंदन। रविवार 18 जून को पूरा देश भारत-पाकिस्तान के बीच हो रहे चैंपियन्स ट्रॉफी मैच के लिए पलकें बिछाए टीवी सेट के आगे बैठा निराश हो रहा था। पाकिस्तानी टीम ने भारत को बुरी तरह से हरा दिया था। वहीं, भारत-पाकिस्तान के बीच एक और मुकाबला चल रहा था, जिसके बारे में कम ही लोगों को पता था।

    वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल्स के अपने तीसरे पूल मैच में भारत और पाकिस्तान के हॉकी खिलाड़ी आमने-सामने थे। भारतीय खिलाड़ियों ने पाकिस्तान को बुरी तरह रौंद कर 7-1 से इस मैच को जीत लिया। मगर, क्रिकेट के उलट हॉकी के इस खेल में एक और बात थी, जिसने देश के सम्मान को तरजीह दी। वह थी कि इस मैच में भारतीय खिलाड़ियों ने सीमा पर देश की रक्षा में जुटे सैनिकों के प्रति सम्मान दिखाते हुए बांह पर काली पट्टी बांधी और पाकिस्तानी हमलों में शहीद हुए सैनिकों के लिए शोक जताया।

    इतना ही नहीं, भारतीय टीम के समर्थन में स्टाफ ने भी काली पट्टी बांधी। वहीं, क्रिकेट के मामले में यह संवेदना नहीं दिखी। गौरतलब है कि हॉकी खिलाड़ी भारतीय सैनिकों के गर्व और सम्मान में खुलकर सामने आते रहे हैं। खिलाड़ी अक्सर सोशल मीडिया पर भी सैनिकों के गर्व और सम्मान के बारे में लिखते रहे हैं और देश के लिए शहीद होने वाले जवानों के साथ होने वाली बर्बरता का खुलकर विरोध करते हैं।

    भारतीय हॉकी खिलाड़ी अक्सर देश के लिए शहीद होने वाले जवानों के प्रति शोक संवेदना जाहिर करते रहे हैं। पीआर श्रीजेश ने 2016 में हुई एशियन चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान को हराने के बाद टीम की जीत को सैनिकों को समर्पित की थी, जिसमें भारत ने पाकिस्तान को हराया था। हॉकी इंडिया के जनरल सेक्रटरी मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा कि भारतीय हॉकी टीम के खिलाड़ियों ने सीमा पर हमारी रक्षा में जुटे सैनिकों को हमेशा सपोर्ट किया है। सैनिक देश के गौरव हैं और हम उनके बलिदान से प्रेरित होते हैं।

    उन्होंने कहा कि काला फीता हाथ में बांधने का फैसला एकमत से सभी ने लिया था। इसके जरिये हम सैनिकों की शहादत पर शोक संवेदना व्यक्त करते हैं और जम्मू-कश्मीर में शांति के बने रहने की कामना करते हैं। हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा कि हम आज यह मैच हर हालत में जीतना चाहते थे। हम पूरी दुनिया को इस खेल के जरिए यह दिखाना चाहते थे कि हम जिस पर विश्वास करते हैं, उसके लिए संघर्ष करते हैं।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें