Naidunia
    Monday, November 20, 2017
    Previous

    आमिर के गुरु कृपाशंकर को भारी पड़ा WFI की तुलना खच्चर से करना

    Published: Thu, 14 Sep 2017 12:16 AM (IST) | Updated: Thu, 14 Sep 2017 08:12 AM (IST)
    By: Editorial Team
    amir kripa13 14 09 2017

    इंदौर। फिल्म अभिनेता आमिर खान के 'दंगल" गुरू कहे जाने वाले अर्जुन अवॉर्डी कृपाशंकर पटेल को भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) की तुलना एक 'खच्चर" से करना महंगा पड़ गया है। उन्हें डब्ल्यूएफआई ने कारण बताओ नोटिस थमा दिया है और लिखित जवाब देने के लिए 7 दिन का समय दिया। अन्यथा उन्हें 6 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया जाएगा।

    डब्ल्यूएफआई ने इंदौर में 15 नवंबर से होने वाली राष्ट्रीय कुश्ती स्पर्धा 10 वजन वर्गों में कराए जाने का फैसला किया था। डब्ल्यूएफआई के नोटिस के अनुसार कृपाशंकर ने सोशल मीडिया पर इस फैसले की तुलना 'खच्चर" से करते हुए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। साथ ही डब्ल्यूएफआई के प्रतीक चिन्ह का भी अपमान किया। यह नोटिस डब्ल्यूएफआई के अध्यक्ष ब्रजभूषण शरण सिंह के हवाले से जारी किया गया और कृपाशंकर को लिखित जवाब के लिए 7 दिन का समय दिया गया। जवाब संतोषजनक नहीं होने पर उन्हें 6 वर्ष का प्रतिबंध झेलना होगा।

    महासंघ के अनुसार चूंकि 2017 कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप 10 वजन वर्गों में होनी है, इसी के चलते राष्ट्रीय कुश्ती स्पर्धा 10 वजन समूहों में कराने का निर्णय लिया गया है। यह पहलवानों के हित का फैसला है।

    क्या था मामला : कृपाशंकर ने सोशल मीडिया पर लिखा था कि यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग ने कुश्ती के नियमों में कई बदलाव किए, लेकिन डब्ल्यूएफआई इनमें से सिर्फ 10 वजन वर्गों के मुकाबले का नियम राष्ट्रीय चैंपियनशिप में लागू कर रहा है। भारतीय कुश्ती महासंघ आधे अधूरे नियम लागू कर रहा है और उसका यह फैसला खच्चर जैसा है।

    करियर : कृपाशंकर ने अपने करियर में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम चमकाया है। वह महिला कुश्ती टीम को भी लंबे समय तक प्रशिक्षण दिया है। फिल्म 'दंगल" में आमिर को कुश्ती के गुर सिखाने के बाद कृपाशंकर की ख्याति और ज्यादा फैल गई थी।

    मैंने डब्ल्यूएफआई के बारे में कुछ गलत टिप्पणी नहीं की। मैंने यूडब्ल्यूडब्ल्यू के संपूर्ण नए नियमों को राष्ट्रीय सीनियर कुश्ती में लागू करने का सुझाव दिया है। अगर यह सुझाव किसी को गलत लगते हैं तो मैं इसके लिए माफी मांगता हूं। - कृपाशंकर

    इंदौर में लागू नहीं होगा दो दिन का नियम :

    मप्र कुश्ती संघ के सचिव पप्पू यादव ने बताया कि डब्ल्यूएफआई ने इंदौर में 15 से 18 नवंबर तक होने वाली राष्ट्रीय सीनियर कुश्ती स्पर्धा में विश्व की संस्था संयुक्त विश्व कुश्ती (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) के नए नियमों के अनुसार 10 वजन भार वर्गों में मैच कराने का फैसला किया है। चैंपियनशिप में यूईई का हर भिड़ंत में दो दिन का नया नियम लागू नहीं होगा। वैसे फ्रीस्टाइल, ग्रीकोरोमन और महिलाओं में शुरू किए गए नए 10-10 वजन वर्गों में मैच होंगे। डब्ल्यूएफआई ने एक सर्कुलर के जरिए अपनी सभी सम्बद्ध इकाइयों को राज्य चैंपियनशिप नए वजन वर्गों के अनुसार कराने के लिए कहा है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें