Naidunia
    Tuesday, December 12, 2017
    PreviousNext

    अमेरिकी ड्रोन हमले में मारी गई IS की ब्रिटिश आतंकी 'व्हाइट विडो'

    Published: Thu, 12 Oct 2017 05:49 PM (IST) | Updated: Thu, 12 Oct 2017 06:17 PM (IST)
    By: Editorial Team
    sally jones white widow img 12 10 2017

    लंदन। सीरिया में अमेरिका के ड्रोन हमले में इस्लामिक स्टेट (आइएस) की चर्चित ब्रिटिश आतंकी सैली जोन्स मारी गई। उसके साथ उसका 12 साल का बेटा भी मारा गया। आंतक की दुनिया में 'ह्वाइट विडो' के नाम से कुख्यात सैली जोन्स मारी आतंकी संगठन आइएस के लिए आतंकियों की ऑनलाइन भर्ती करती थी।

    ब्रिटिश अखबार 'द सन' ने गुरुवार को उसके मारे जाने की खबर दी। अखबार के अनुसार, दक्षिण इंग्लैंड की रहने वाली जोन्स ने इस्लाम धर्म अपना लिया था। उसने आइएस आतंकी जुनैद हुसैन से शादी की थी।

    हुसैन 2015 में ड्रोन हमले में मारा गया था। इसके बाद जोन्स ब्रिटिश मीडिया में 'ह्वाइट विडो' नाम से मशहूर हो गई थी। ब्रिटिश खुफिया विभाग के एक सूत्र के हवाले से बताया गया कि जोन्स और उसका बेटा जोजो इस साल जून में इराक से लगती सीरिया की सीमा में उस वक्त मारे गए, जब वे आइएस के मजबूत गढ़ रक्का से भागने का प्रयास कर रहे थे।

    अमेरिकी खुफिया प्रमुख के हवाले से बताया गया कि वह मारी जा चुकी है, लेकिन इस पर उन्हें 100 फीसद यकीन नहीं है। पहले भी कई आइएस आतंकियों के मारे जाने की खबर आई, मगर बाद में वे दोबारा सामने आ गए।

    बैंड में सिंगर थी जोन्स-

    जोन्स आइएस में शामिल होने से पहले एक बैंड में सिंगर थी। वह केंट की दक्षिणी काउंटी चैथम में रहती थी और साल 2013 में सीरिया चली गई। वहीं पर उसने हुसैन से शादी की थी। हुसैन से जोन्स की ऑनलाइन मुलाकात हुई थी।

    वह सोशल मीडिया पर आतंकी संदेश भी पोस्ट करती थी। उसने खुद की एक तस्वीर डाली थी जिसमें वह नन की वेशभूषा में कैमरा की ओर बंदूक ताने खड़ी थी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें