Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    दाऊद की 43 हजार करोड़ की संपत्ति ब्रिटेन में जब्त

    Published: Wed, 13 Sep 2017 10:01 AM (IST) | Updated: Thu, 14 Sep 2017 11:02 AM (IST)
    By: Editorial Team
    dawood 13 09 2017

    नई दिल्ली। अंडरवर्ल्ड सरगना और 1993 के मुंबई धमाकों के मास्टर माइंड दाऊद इब्राहिम के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू हो गया है।

    भारतीय जांच एजेंसियों की निशानदेही पर ब्रिटेन ने दाऊद की लगभग 43 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली है। दुबई में उसकी संपत्तियों की पहचान और जब्त करने की प्रक्रिया चल रही है।

    इससे दाऊद का काला साम्राज्य सिर्फ पाकिस्तान तक सिमट कर रह गया है। एक ब्रिटिश अखबार में छपी खबर के मुताबिक, ब्रिटेन ने दाऊद के कई होटलों, घरों और वाणिज्यिक संपत्तियों को जब्त कर लिया है।

    भारतीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इन संपत्तियों की पहचान में अहम भूमिका निभाई है। हालांकि, भारत सरकार की ओर से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है।

    विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने तिरुअनंतपुरम में सिर्फ इतना कहा कि बहुत कुछ हो रहा है। लेकिन, अभी कुछ नहीं बताया जा सकता है।

    बताया जाता है कि दाऊद ने अपनी काली कमाई का अधिकांश हिस्सा ब्रिटेन और दुबई में लगा रखा है। दुबई में इसकी लगभग 15 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति होने का अनुमान है।

    भारतीय एजेंसियों ने दुबई को इन संपत्तियों की सूची सौंप दी है। जहां इसकी जांच हो रही है। वहां भी जल्द ही उसकी सारी संपत्तियों को जब्त किया जा सकता है।

    ब्रिटेन और दुबई में संपत्तियों के जब्त होने के बाद दाऊद का काला साम्राज्य मुख्यतौर पर कराची और पाकिस्तान के कुछ हिस्सों में सिमट कर जाएगा।

    जहां वह ढाई दशक से आइएसआइ के संरक्षण में रह रहा है। इससे दाऊद के ड्रग और हथियारों के अंतरराष्ट्रीय तस्कर नेटवर्क की गतिविधियों को भी रोकने में मदद मिलेगी।

    इन संपत्तियों को किया जब्त

    ब्रिटेन के वार्विकशायर में दाऊद के होटल हैं, जबकि मिडलैंड में कई रिहायशी संपत्तियां हैं। इसी तरह लंदन की संपत्तियों में सेंट जॉन वुड रोड, होर्नचर्च, एसेक्स, रिचमोंड रोड, टॉम्सवुड रोड, चिगवेल, रो हैम्पटन हाई स्ट्रीट, लांसलोट रोड, थार्टन रोड, स्पाइटल स्ट्रीट, डार्टफर के बड़े-बडे रिहयाशी कॉम्प्लैक्स और कमर्शियल बिल्डिंग्स शामिल हैं।

    इस वजह से घिरा डॉन

    --दाऊद इब्राहीम की संपत्तियों को भारत के किसी केस के सिलसिले में जब्त नहीं किया गया है।

    --ब्रिटेन ने उसके अंतरराष्ट्रीय आतंकी होने के आधार पर उसकी संपत्तियों को जब्त किया है।

    --संयुक्त राष्ट्र संघ दाऊद को अलकायदा से जुड़ा अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर चुका है।

    --ऐसे में दुनिया के सभी देशों को उसकी संपत्ति होने की स्थिति में जब्त करने का अधिकार है।

    भारत अरसे से करता रहा है मांग

    भारत लंबे समय से दुनिया के तमाम देशों को दाऊद के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहता रहा है। लेकिन, पहली बार उसके खिलाफ कार्रवाई संभव हुई है। भारत दाऊद के पाकिस्तान में होने का पुख्ता सुबूत देता रहा है, लेकिन पाकिस्तान इसे नकारता रहा है। पिछले महीने ही ब्रिटेन के ट्रेजरी विभाग ने एक लिस्ट जारी की थी, जिसमें दाऊद के पाकिस्तान में भी तीन ठिकानों का उल्लेख किया गया था।

    21 फर्जी नामों से खरीदी संपत्ति

    ब्रिटेन में दाऊद ने 21 फर्जी नामों से संपत्ति ले रखी थी। इनमें अब्दुल शेख इस्माईल, अब्दुल अजीज, अब्दुल हमीद, अब्दुल रहमान, शेख मुहम्मद इस्माईल, अनीस इब्राहिम, शेख मुहम्मद भाई, बड़ा भाई, दाऊद भाई, इकबाल, दिलीप, अजीज इब्राहिम, दाऊद फारूकी, अनीस इब्राहिम, हसन शेख, दाऊद हसन, शेख इब्राहिम कासकर, दाऊद हसन, इब्राहिम मेमन, साबरी दाऊद, साहब हाजी और सेठ बड़ा जैसे नाम शामिल हैं। एक बार दाऊद के फर्जी नामों पर खरीदी गई संपत्तियों की पहचान होने के बाद उन्हें जब्त करना आसान हो गया।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें