Naidunia
    Friday, June 23, 2017
    PreviousNext

    जाधव की सजा पर पूर्व पाक राजनयिक ने उठाए सवाल

    Published: Thu, 20 Apr 2017 08:57 PM (IST) | Updated: Thu, 20 Apr 2017 09:29 PM (IST)
    By: Editorial Team
    kulbhushan 20 04 2017

    वाशिंगटन। भारतीय नौसैनिक अधिकारी कुलभूषण जाधव को जासूस बताकर फांसी की सजा सुनाने पर पाकिस्तान के ही एक पूर्व राजनयिक ने सवाल उठाया है।

    अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजदूत हुसैन हक्कानी ने कहा है कि इस 'जासूसी खेल' से इन दोनों पड़ोसी देशों के लिए शांति कायम रखना और मुश्किल हो जाएगा।

    'वॉल स्ट्रीट जर्नल' में लिखे अपने लेख में हक्कानी ने कहा कि यदि जाधव मामले की खुले में सुनवाई की जाती, तो यह ज्यादा विश्वास दिलाने वाला होता। लेकिन, गोपनीय तरीके से और जल्दबाजी में सुनाए गए इस फैसले से लगता है कि इसका संबंध केस की मेरिट से ज्यादा पाकिस्तान की घरेलू राजनीति से है।

    हक्कानी इस समय प्रसिद्ध अमेरिकी थिंक टैंक हडसन इंस्टीट्यूट में दक्षिण और मध्य एशिया मामलों के निदेशक हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जबकि भारत में भी गोरक्षा के नाम पर धार्मिक उन्माद बढ़ रहा है, पाकिस्तान के 'जासूसी खेल' से सिर्फ हालात मुश्किल होंगे।

    इससे दोनों पड़ोसी देशों में शांति कायम करना मुश्किल हो जाएगा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने हाल ही में भारत से रिश्ते बेहतर बनाने का आह्वान किया है।

    लेकिन, किसी भारतीय को मौत की सजा सुनाना बातचीत बहाली के प्रयासों को खत्म कर देगा।

    अपने इस लेख में पूर्व पाकिस्तानी राजनयिक ने यह भी कहा है कि अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए आतंकियों के इस्तेमाल की नीति पर पाकिस्तान शायद ही पुनर्विचार करेगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी