Naidunia
    Wednesday, August 23, 2017
    PreviousNext

    मैराथन के कारण ऐसे लोगों की जान पर बन जाती है, जिन्हें चाहिए हो तत्काल मेडिकल हेल्प

    Published: Thu, 13 Apr 2017 02:52 PM (IST) | Updated: Thu, 13 Apr 2017 03:09 PM (IST)
    By: Editorial Team
    maratone 13 04 2017

    लंदन। मैराथन उन लोगों के लिए खतरनाक हो सकती है, जो इस इवेंट में भाग नहीं ले रहे हैं लेकिन जिन्हें तत्काल चिकित्सीय ध्यान देने की जरूरत है। एक नए अमेरिकी अध्ययन में यह दावा किया गया है।

    इसमें कहा गया है कि मैराथन के आयोजन स्थल के आस-पास के निवासियों को रेस के दिन आपातकालीन हृदय की देखभाल के लिए अस्पताल ले जाने में लंबा समय लगता है। इससे उनके जीवित रहने की संभावना कम हो जाती है।

    शोधकर्ता चेतावनी देते हैं कि कोई भी घटना, जिसमें भीड़ शामिल होती है और जो यातायात को बाधित करती है, उससे समस्याएं खड़ी होती हैं। फिर चाहें वह परेड हो, बॉल गेम, कॉन्सर्ट, मेले कुछ भी हो। यह असुविधा से आगे की बात है।

    शोध में पाया गया है कि हर 100 में से तीन से चार लोग, जिन्हें दौरा पड़ता है एक महीने के भीतर मर जाते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आमदिनों के उलट उन्हें मैरथन के दिन समय पर देखभाल नहीं मिल पाती है।

    यह शोध बुधवार को न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित किया गया था। गौरतलब है कि बोस्टन की वार्षिक 42 किलोमीटर की दौड़ सोमवार को होनी है। हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के डॉ. अनुपम जेना ने कहा कि ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इस रिपोर्ट के आ जाने के बाद लोगों का ध्यान इस पर जाएगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें