Naidunia
    Sunday, April 30, 2017
    PreviousNext

    OMG! अपनी सुंदर बीवियों को कुरूप बना देते हैं यहां के लोग

    Published: Sun, 19 Mar 2017 04:24 PM (IST) | Updated: Sun, 19 Mar 2017 06:27 PM (IST)
    By: Editorial Team
    burmese-women 2017319 182735 19 03 2017

    मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। आज जहां सारे लोग अच्‍छा दिखने की आस में तरह-तरह के जतन करते हैं, वहीं एक कौम ऐसी भी है जो जानबूझकर बदसूरत दिखने की कोशिश में लगी रहती है।

    जानकर हैरानी होगी लेकिन ये सच है। म्‍यांमार में मगनचिन और मुन ऐसी ट्राइब है जहां पुरुष अपनी बीवियों को कुरूप बनाकर रखते हैं। इसके लिए वे कोई कसर नहीं छोड़ते।

    वे महिलाओं के चेहरे पर भद्दे टैटू बनवाकर रखते हैं। ये टैटू सूअर और गाय की चर्बी के बने होते हैं जिससे घृणा और बढ़ जाती है। ये वाइल्‍ड टैटू किसी रंग से नहीं बल्कि जंगली पौधों से बनाए जाते हैं।

    ऐसा नहीं है कि ये टैटू केवल दिखने में बेहूदा हैं, बल्कि बनवाते समय भी ये कष्‍ट देते हैं। दर्द के मारे महिलाओं की चीख निकल जाती है। सेहत की दृष्टि से भी ये ठीक नहीं हैं और संक्रमण फैलाते हैं।

    इनसे खून रिसता है, तकलीफ होती है लेकिन ये चलन बदस्‍तूर जारी रहता है। ये रिवाज आज कल का नहीं है बल्कि पुराना है। अब सवाल ये उठता है कि आखिर ऐसी अजीब अमानवीय परंपरा की वजह क्‍या है।

    असल में इसके पीछे असुरक्षा का कारण है। म्‍यांमार में बरसों पहले राजशाही थी और निर्दयी राजा अपने क्षेत्र की सुंदर महिलाओं पर गलत नजर रखते थे। उन्‍हें उठवा लिया जाता था।

    शारीरिक शोषण के अलावा उन्‍हें सेक्‍स स्‍लेव बनाकर रखा जाता था। इस समस्‍या से निपटने के लिए वहां के पुरुषों ने अपनी महिलाओं का सौंदर्य ही बिगाड़ना शुरू कर दिया।

    इसके पीछे उनकी सोच ये थी कि यदि महिलाओं में आकर्षण ही नहीं रहेगा तो उन्‍हें कोई उठाकर ही नहीं ले जाएगा। यह परंपरा आज भी कायम है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी