Naidunia
    Monday, December 11, 2017
    PreviousNext

    ओह माय गॉड! महिला ने किया सोते मर्द के साथ रेप

    Published: Mon, 15 Sep 2014 04:59 PM (IST) | Updated: Mon, 15 Sep 2014 05:03 PM (IST)
    By: Editorial Team
    [+] Show Thumnail[-] Hide Thumnail
    • seattle-woman1 15 09 2014
    • seattle-woman2 15 09 2014
    • seattle-woman3 15 09 2014
    pg rarrow
    seattle-woman1 15 09 2014

    आरोपी महिला चैंटे गिलमन

    सिएटल। अमेरिका में एक बहुत ही चौंकानेवाला मामला सामने आया है। एक महिला ने सोते हुए मर्द के घर में बिना इजाजत घुसकर उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया है।

    डेली मेल की खबर के अनुसार, यूएस के सिएटल में 26 वर्षीय एक महिला पर सोते हुए मर्द के हाथ-पैर बांधकर रेप करने का आरोप लगा है। पीड़ित शख्स ने इसकी शिकायत कोर्ट में की है। खबर के अनुसार, रेप की आरोपी महिला पीड़ित शख्स की पड़ोसी को जानती थी और उसके यहां जन्मदिन की पार्टी में आई हुई थी। पीड़ित ने महिला पर ड्रग्स लेने की आदी होने का आरोप भी लगाया है।

    घटना से पहले पीड़ित एक जन्मदिन की पार्टी में शिरकत करने गया था और काफी थक चुका था। थकान की वजह से वह गहरी नींद में सो गया। अचानक रात के दो बजे उसे अपने शरीर पर वजन महसूस हुआ। उसकी नींद खुली तो उसकी आंखें फटी की फटी रह गई। उसने देखा कि उसके हाथ-पैर बंधे हुए हैं और उसके उपर 5 फीट 7 इंच और 108 किलो वजनी महिला बैठी हुई है और सेक्स कर रही है। उसके हाथों को आरोपी महिला चैंटे गिलमन ने अपने हाथों से जकड़ रखा था ताकि वह किसी तरह का कोई प्रतिरोध न कर सके। उसने गिलमन से रहम की भीख मांगी लेकिन उसने अनसुना कर दिया और उसके साथ सेक्स की घटना को अंजाम देती रही। काफी कोशिशों के बाद किसी तरह से पीड़ित उसके चंगुल से बच निकलने में कामयाब रहा। इसके बाद पीड़ित शख्स ने गिलमन को अपने अपार्टमेंट से बाहर किया और घर के पास स्थित मेडिकल सेंटर में रेप की जांच करवाने के लिए पहुंचा। हालांकि, यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि महिला ने उस शख्स के घर में किस तरह से एंट्री की।

    आरोपी महिला गिलमन ने रेप के आरोपों को नकारते हुए कहा है कि वह पीड़ित शख्स को नहीं जानती है और न ही उसे कुछ ऐसा याद है कि वह उसके घर गई और उसके साथ सेक्स किया। उसने पुलिस को बताया है कि वह मानसिक रोग की शिकार है। हाल ही में गिलमन ने फेसबुक पर पोस्ट किया है कि वह 31 हफ्तों की प्रेग्नेंट है।

    बहरहाल, पीड़ित के गुप्त अंगों पर पाया गया डीएनए और उस महिला का डीएनए मैच हो गया है। इसलिए उसके खिलाफ सेकंड डिग्री रेप का मामला दर्ज किया गया है, जिसका मतलब है कि पीड़ित शारीरिक रूप से असहाय होने की वजह से यौन संबंधों के लिए स्वीकृति देने की स्थिति में नहीं था।

    मामले की जांच कर रहे जांचकर्ताओं का कहना है कि महिला पर इस तरह के अपराध का आरोप लगाना थोड़ा अलग तरह का मामला है। एक जांचकर्ता ने बताया, 'आंकड़ों पर नजर डालें तो किसी महिला का इस तरह से अग्रेसिव होना कुछ अटपटा सा लगता है लेकिन कानून सभी के लिए बराबर है, इसलिए हम उसे सबके लिए लागू करेंगे।'

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=
    • INDRESH KUMAR11 Nov 2015, 12:48:44 PM

      bahut hi achchambha laga

    जरूर पढ़ें