Naidunia
    Tuesday, June 27, 2017
    PreviousNext

    यह कैसी बीमारी: मॉडर्न घर से एलर्जी, अब झोपड़ी में आशियाना

    Published: Mon, 06 Mar 2017 08:37 AM (IST) | Updated: Mon, 06 Mar 2017 08:49 AM (IST)
    By: Editorial Team
    kate burrows 06 03 2017

    लंदन। इंग्लैंड के डेवॉन जिले में बीते 19 माह से एक दंपती सुख-सुविधाओं वाली जीवनशैली छोड़कर झोपड़ी में जिंदगी बिता रहा है। इस घर में न तो बिजली की व्यवस्था है और न पानी की। फिर भी एलन और केट बरो का कहना है कि वह ऐसे में भी खुश हैं। इसके पीछे का कारण भी चौंकाने वाला है।

    केट का कहना है कि मॉडर्न घर व रोजमर्रा की चीजों से उन्हें एलर्जी हो गई थी इसलिए वह पति के साथ झोपड़ी में आकर बस गईं। हालांकि अब स्थानीय प्रशासन ने उनकी इस झोपड़ी को अवैध करार दिया है।

    केट एक ऐसी दुर्लभ समस्या से पीड़ित हैं जिससे उन्हें आम चीजों जैसे शैंपू आदि और उसके केमिकल्स से दिक्कतें होना शुरू हो गई थीं। इन सभी के बीच रहकर वह लगभग रोजाना अस्वस्थ रहती थीं।

    केट का दावा है कि झोपड़ी में प्राकृतिक वातावरण के बीच उनकी सेहत में सुधार भी हुआ है।

    ऐसा है नया घर

    • इस घर में न तो बिजली और न पानी की व्यवस्था है। यहां ऑइल बर्नर, सोलर पेनल ही ऊर्जा के विकल्प हैं।
    • दोनों ने लकड़ी, मिट्टी आदि चीजों से छह सप्ताह में घर का निर्माण पूरा किया।
    • केट ने घर के बाहर ही सब्जियां लगा रखी हैं और कई पालतू जानवर भी रखे हैं।
    • हालांकि नॉर्थ डेवॉन परिषद के अनुसार, यह घर नियमों के मुताबिक नहीं बना है और इसे तोड़ देना चाहिए।
    • दंपती ने अपने इस घर को बचाने के लिए कानूनी लड़ाई भी शुरू कर दी है।
    • जानकारों के अनुसार, 'मल्टिपल केमिकल सेंसेटिविटी' की समस्या किसी भी उम्र के लोगों को जकड़ सकती है। ब्रिटेन में इसके काफी मामले सामने आए हैं। है।
    • पीड़ितों का दावा है कि उन्हें शैंपू से लेकर वाई-फाई तक सभी भौतिक चीजों से एलर्जी महसूस होती है। इस समस्या से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता पर असर पड़ता है। विशेषज्ञों ने इसका प्रमुख कारण तनाव बताया है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी