Naidunia
    Friday, July 28, 2017
    PreviousNext

    दौड़ते घोड़े पर खड़ा करके निशाना लगवाता था हिटलर

    Published: Mon, 10 Jul 2017 11:52 AM (IST) | Updated: Mon, 10 Jul 2017 11:56 AM (IST)
    By: Editorial Team
    running horse 2017710 115626 10 07 2017

    जर्मनी के तानाशाह हिटलर को दुनिया का सबसे दुर्दांत शासक माना जाता है। उसने अपने दुश्मन देशों के सैनिकों को ही नहीं, बल्कि अपनी ही आर्मी के सैनिकों को भी कभी सामान्य जीवन नहीं जीने दिया। दुनिया पर शासन करने की उसकी महत्वाकांक्षा इतनी प्रबल थी कि वह अपने सैनिकों को किसी भी स्थिति में मरने-मारने के लिए तैयार करता था।

    इस जिद में कई बार वह उनकी जान ले लेता था। उसकी ऐसी ही सनक का नतीजा था दौड़ते घोड़ों पर खड़े होकर निशाना लगा सकने की प्रैक्टिस। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान उसने अपने सैनिकों को पहले स्थिर खड़े घोड़ों के ऊपर खड़े होकर बंदूक चलाने की प्रैक्टिस करवाई और फिर दौड़ते घोड़ों पर।

    इस प्रैक्टिस में उसके कई सैनिक घोड़ों से गिर कर घायल हो जाते, कई के सिर घोड़ों के पांवों से टकराकर फूट जाते या आंखें चली जातीं। मगर हिटलर की सनक थी कि सैनिकों की मौत के बाद भी उसने यह सब नहीं रोका।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी