ग्रेटर नोएडा। एशिया की सबसे बड़ी ऑटोमोबाइल प्रदर्शनी ऑटो एक्सपो 2018 का राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आगाज हो गया। यहां कार व दोपहिया बनाने वाली कंपनियों ने करीब सौ नए उत्पाद पेश किए हैं, जिन्हें अगले एक महीने से दो वर्षों में बाजार में उतारने की योजना है।

मारुति सुजुकी, टाटा मोटर्स, हुंडई, किआ मोटर्स जैसी मध्यम वर्ग के लिए कार बनाने वाली कंपनियों से लेकर मर्सिडीज बेंज व बीएमडब्ल्यू की तैयारियों को देखकर लगता है कि आने वाले पांच वर्षों में भारतीय कार बाजार की तस्वीर पूरी तरह बदल जाएगी।

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी ने 2020 तक भारत में निर्मित पहली इलेक्ट्रिक कार बाजार में लॉन्च करने की घोषणा की है। कंपनी ने पूरी तरह भारत में निर्मित कॉन्सेप्ट एसयूवी कार फ्यूचर-एस और ई-सरवाइवर भी पेश की है।

वहीं टाटा मोटर्स ने भी एलान कर दिया कि इलेक्ट्रिक वाहनों के जरिए ही यहां कंपनियां टिकी रहेंगी। कंपनी ने ऑटो एक्सपो में स्मार्ट मोबिलिटी, स्मार्ट सिटीज नाम से पैवेलियन लगाया है, जिसमें पैसेंजर वाहन से लेकर कमर्शियल वाहनों के बदलते मिजाज को प्रदर्शित किया है। अभिनेता अक्षय कुमार ने कंपनी के नए कमर्शियल वाहन टाटा इंट्रा को यहां पेश किया। सबसे ज्यादा आकर्षित किया कॉन्सेप्ट कार एच5एक्स जो लग्जरी एसयूवी होगी।

किआ मोटर्स भी चर्चा में रही। भारत में पहली बार उतर रही दक्षिण कोरिया की इस कंपनी ने 16 नए मॉडल पेश किए हैं।

एक अन्य दक्षिण कोरियाई कंपनी हुंडई ने आई-20 का नया वर्जन लॉन्च किया। देश की इस दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी ने आइओनिक नाम से इलेक्ट्रिक व हाइब्रिड ब्रांड को प्रदर्शित किया है।

महिंद्रा एंड महिंद्रा की भी इलेक्ट्रिक कारों को लेकर तैयारी पुख्ता दिखती है।

एक्सपो में मौजूद दोपहिया वाहन कंपनियों की पूरी पेशकश बताती है कि हीरो, होंडा, यामहा, कावासाकी, टीवीएस समेत तकरीबन सभी कंपनियों का जोर डिजाइनिंग और पावर पर है। होंडा जरूर अपने स्कूटर ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने में जुटी है।

हिस्सा ले रहीं प्रमुख कंपनियां

मारुति सुजुकी, टाटा मोटर्स, हुंडई, महिंद्रा एंड महिंद्रा, किआ मोटर्स, मर्सिडीज बेंज, बीएमडब्ल्यू, हीरो, होंडा, यामहा, कावासाकी, टीवीएस।

इन पर रही नजर

हुंडई की एलीट आई20

मारुति की कॉन्सेप्ट एसयूवी फ्यूचर-एस

मारुति की कॉन्सेप्ट ई-सरवाइवर

टाटा मोटर्स की टाटा इंट्रा

टाटा मोटर्स की कॉन्सेप्ट एच5एक्स