नई दिल्ली। सरकार दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना 'आयुष्मान भारत' के लिए अगले साल फंडिंग बढ़ा सकती है। कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को इस बात के संकेत दिए।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में गोयल ने कहा कि योजना की शुरुआत के 4 महीनों के भीतर इसके लाभार्थियों की संख्या 10 लाख से अधिक हो गई। अगले साल सरकार इस स्कीम के लिए ज्यादा धन मुहैया करा सकती है।

गोयल ने कहा कि सरकार ने पहले ही इस कार्यक्रम के लिए 50 करोड़ डॉलर का प्रावधान कर चुकी है। आगामी वर्षों के दौरान हमें और धन मुहैया कराए जाने की उम्मीद है। पिछले हफ्ते संसद में पेश वित्त वर्ष 2019-20 के लिए अंतरिम बजट में आयुष्मान भारत के लिए आवंटन बढ़ाकर 6,400 करोड़ रुपए करने का ऐलान किया गया था।

दुनियाभर की कंपनियों के लिए खुलेगा रास्ता

गोयल ने कहा कि 'हेल्थ सर्विसेज सिस्टम' के विस्तार से मरीजों के अलावा इस क्षेत्र से जुड़ी कंपनियों को भी फायदा होगा। देश में स्वास्थ्य सेवाओं के लिए बुनियादी ढांचा बेहतर बनाए जाने से दुनियाभर की कंपनियों के लिए भारत आने का रास्ता खुलेगा। हर घर तक बिजली की पहुंच के बारे में गोयल ने कहा कि इस साल अप्रैल तक देश के हर घर तक बिजली पहुंच जाएगी। उन्होंने कहा, 'हमने सतत विकास लक्ष्य से एक दशक पहले ही यह लक्ष्य हासिल कर लिया है।'