नई दिल्ली। व्हाट्सएप द्वारा मनी ट्रांसफर फीचर पेश किए जाने के बाद अब एक के बाद एक बड़े बैंक इससे जुड़ते जा रहे हैं। आईसीआईसीआई बैंक के बाद अब देश के तीसरे बड़े निजी कर्जदाता एक्सिस बैंक ने भी व्हाट्सएप पर पेमेंट सर्विस शुरू करने की तैयारी कर ली है।

मंगलवार को बैंक ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि वह जल्द वाट्सएप पर भुगतान संबंधी सुविधा मुहैया कराने में सक्षम हो जाएगा। बैंक ने यह भी कहा कि यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआइ) में वह बड़ी संभावनाएं देख रहा है।

एक्सिस बैंक के कार्यकारी निदेशक (रिटेल बैंकिंग) राजीव आनंद ने कहा कि नवीन खोज के मामले में यूपीआइ बाजार में अग्रणी है। यूपीआइ बहुत बड़ा अवसर है और यह हमारे ग्राहकों को अन्य बैंकों के ग्राहकों से बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने के लक्ष्य में हमारी मदद करेगा।

उन्होंने कहा कि बैंक मशहूर मोबाइल सोशल मैसेजिंग एप्लीकेशन वाट्सएप, गूगल, उबर, ओला और सैमसंग पे जैसे सहयोगियों से भी पेमेंट भुगतान सुविधा शुरू करने की संभावनाओं के बारे में बातचीत कर रहे हैं। बैंक अधिकारियों के मुताबिक यूपीआइ के जरिये लेनदेन में फिलहाल एक्सिस बैंक की बाजार हिस्सेदारी करीब 20 फीसद है।

गौरतलब है कि यूपीआइ नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (यूपीसीआइ) द्वारा विकसित पेमेंट इंटरफेस है। इसके जरिये किसी भी बैंक के खाते से किसी भी अन्य बैंक खाते में तुरंत भुगतान करना संभव है। इसका नियमन भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) के तहत होता है।

आनंद ने कहा कि गूगल तेज का परिचालन शुरू हो चुका है, जबकि वाट्सएप पर पेमेंट सुविधा देने के लिए डाटा-एकीकरण का काम तेजी से चल रहा है। उनका कहना था कि वर्तमान में वाट्सएप का बीटा संस्करण बाजार में है। लेकिन बैंक को उम्मीद है कि अगले दो माह के भीतर इसका परिष्कृत पूर्ण संस्करण लांच हो जाएगा। आनंद ने बताया कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के अंत में बैंक का 66 फीसद लेनदेन डिजिटल माध्यम से हो रहा था। वहीं, उसका मोबाइल बैंकिंग का आकार बढ़कर 51,030 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।