नई दिल्ली। इथियोपिया विमान हादसे के बाद चीन ने सोमवार को अपनी सभी विमानन कंपनियों से करीब 100 बोईंग 737 मैक्स-8 का व्यावसायिक इस्तेमाल तत्काल बंद करने को कहा है। भारत में भी इन विमानों का इस्तेमाल होता है। जाहिर है, इनको लेकर चिंता जताई जाने लगी है।

इससे पहले इथियोपिया की एयरलाइन ने भी इस विमान का परिचालन रोक दिया था। बहरहाल, दो दुर्घटनाओं में समानता को देखते हुए चीन के नागर विमानन प्राधिकरण ने एक बयान जारी करके कहा कि घरेलू विमानन कंपनी ने स्थानीय समय के मुताबिक शाम छह बजे तक बेड़े में शामिल सारे बोइंग 737 मैक्स-8 का परिचालन रोक दिया।

चीन के नागर विमानन प्राधिकरण ने कहा कि विमान संरक्षा से संबंधित सभी पहलुओं की पुष्टि होने के बाद ही बोईंग 737 मैक्स-8 का व्यावसायिक इस्तेमाल दोबारा शुरू होगा। प्राधिकरण अमेरिकी विमानन नियामक और बोईंग से संपर्क करेगा।

प्राधिकरण के बयान में कहा गया है कि इथियोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से नैरोबी के लिए उड़ान भरने के कुछ ही मिनटों बाद इथियोपियन एयरलाइंस का एक विमान रविवार सुबह दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिससे उसमें सवार चार भारतीय नागरिक, पर्यटकों और कारोबारियों सहित सभी 157 लोगों की मौत हो गई।

इथियोपिया ने रोका परिचालन

इस बीच अदीस अबाबा से इथियोपिया की एयरलाइन ने सोमवार को बताया कि उन्होंने बोइंग 737 मैक्स-8 विमानों का परिचालन रोक दिया है। सरकारी एयरलाइन ने ट्‌िवटर पर जारी एक बयान में बताया, 'ईटी 302 की घटना के बाद इथियोपिया की एयरलाइन ने बी-737-8 मैक्स विमानों का परिचालन रोकने का निर्णय लिया गया है।'

अक्टूबर, 2018 में पहली घटना

इससे पहले अक्टूबर में इंडोनेशिया की लॉयन एयर कंपनी का विमान जकार्ता से उड़ान भरने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया था और विमान में सवार सभी 189 यात्रियों की मौत हो गई थी। इसके बाद इथियोपिया में इसी तरह की दूसरी घटना सामने आने से इस विमान के सुरक्षित होने को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं।

भारतीय कंपनियां बोईंग के संपर्क में

भारत में जेट एयरवेज और स्पाइस जेट के पास बोइंग 737 मैक्स-8 विमान हैं। स्पाइस जेट के पास ऐसे 13 विमान हैं। विमानन नियामक डीजीसीए स्पाइस जेट और जेट एयरवेज से इन विमानों को लेकर सवाल पूछ सकता है। इसको लेकर भारतीय विमानन कंपनियां और अधिकारी बोइंग के संपर्क में हैं। लेकिन, रिपोर्ट लिखे जाने तक जेट एयरवेज और स्पाइस जेट के विमानों लेकर डीजीसीए का कोई पक्ष सामने नहीं आया।

बोईंग के शेयर में करीब 10 प्रतिशत गिरावट

पांच महीनों दो बार नए 737 मैक्स-8 सवारी विमानों के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद इसे बनाने वाली अमेरिकी कंपनी बोईंग के शेयर में सोमवार को लगभग 10 प्रतिशत गिरावट आई।

कंपनी के शेयर में यह तकरीबन दो दशकों की सबसे बड़ी गिरावट है। इससे पहले पिछले तीन वर्षों के दौरान कंपनी के शेयर की वैल्यू लगभग तीन गुना बढ़कर पिछले हफ्ते 446 डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई थी।