नई दिल्ली। जेट एयरवेज पिछले कुछ वक्त से बड़ी आर्थिक तंगी से गुजर रही है। यही वजह है कि पिछले कुछ वक्त से कंपनी को अपनी कई फ्लाइट्स रद्द करनी पड़ी है। यहां तक कंपनी की गिरती माली हालत के मद्देनजर सरकार को भी इसमें हस्तक्षेप करना पड़ा है। इस बीच सोमवार को कंपनी के बोर्ड से मुख्य मुख्य प्रमोटर नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनिता गोयल ने इस्तीफा दे दिया है।

बता दें कि जेट एयरवेज को खस्ता माली हालत से उबारने के लिए उसके कर्ज का पुनर्गठन होने और एतिहाद एयरवेज तथा नेशनल इन्वेस्टमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड (एनआइआइएफ) की ओर से निवेश होने से घाटे में चल रही कंपनी को करीब 3,400 करोड़ रुपये का नया फंड मिलने की उम्मीद बंधी थी।

माना जा रहा था कि इस प्रक्रिया में कंपनी में संस्थापक नरेश गोयल की हिस्सेदारी वर्तमान 51 फीसद से घटकर 20 फीसद पर आ जाएगी। अबुधाबी की एतिहाद एयरवेज कंपनी में करीब 1,400 करोड़ रुपये का निवेश करने का भी मन बना रही थी।