नई दिल्ली। आइटी सेक्टर की सबसे बड़ी घरेलू कंपनी टीसीएस को चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में रिकॉर्ड 8,105 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ।

इस दौरान कंपनी के मुनाफे में 24.1 फीसद का बड़ा उछाल दर्ज किया गया। कंपनी ने कहा कि चुनौतियों के बीच समीक्षाधीन तिमाही में उसके राजस्व में पिछली 14 तिमाही की सबसे बड़ी बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

कंपनी ने शेयरधारकों के लिए प्रति शेयर चार रुपये अंतरिम लाभांश की घोषणा की है। पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी का शुद्ध मुनाफा 6,531 करोड़ रुपये रहा था।

चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर, 2018) में कंपनी ने 7,901 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था।

आय 21 फीसद बढ़ी तीसरी तिमाही में टाटा ग्रुप की सबसे कमाऊ कंपनी टीसीएस की आय 21 फीसद बढ़कर 37,338 करोड़ रुपये हो गई।

डॉलर के मुकाबले रुपये के स्थिर मूल्य के आधार पर तिमाही राजस्व विकास दर 1.8 फीसद और सालाना 12.1 फीसद रही।

एक बयान में टीसीएस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और प्रबंध निदेशक (एमडी) राजेश गोपीनाथन ने कहा कि कंपनी ने हर भौगोलिक क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन किया है।